Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बेमौसम बारिश के साथ जमकर गिरे ओले, सब्जियों की फसल चौपट, गेहूं की खड़ी फसल भी बर्बाद

आसपास के करीब 10 गांव ओलावृष्टि से प्रभावित हुए हैं। इतना ही नही तानाखार बरपाली के बीच हुई ओले की बारिश से राष्ट्रीय राजमार्ग 111 पूरी तरह सफेद हो गया।

बेमौसम बारिश के साथ जमकर गिरे ओले, सब्जियों की फसल चौपट, गेहूं की खड़ी फसल भी बर्बाद
X

कोरबा. पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तर पूर्वी मध्य प्रदेश के बीच चक्रवात और द्रोणिका के असर से रविवार दोपहर से जिले के तनाखार बरपाली के बीच हुई जोरदार बारिश से जमकर ओले गिरे। करीब 20 मिनट तक ओलावृष्टि होती रही। आसपास के करीब 10 गांव ओलावृष्टि से प्रभावित हुए हैं। इतना ही नही तानाखार बरपाली के बीच हुई ओले की बारिश से राष्ट्रीय राजमार्ग 111 पूरी तरह सफेद हो गया।

ओला वृष्टि से गेहूं सहित सब्जियों की फसल चौपट हो गई है। इलाके में दोपहर 4 बजे के बाद तेज हवा के बीच बारिश शुरू हो गई और इसी दौरान ओलावृष्टि भी आरंभ हो गई। तनाखार, गुरसिया,बांगो, पोड़ी ,लखनपुर कव आसपास के 10 गांव में जमकर ओलावृष्टि की खबर है। करीब 30 मिनट हुई ओलावृष्टि से खेत खलिहान सड़क बर्फ से ढंक गए। पूरा इलाका सफेद चादर के समान नजर आ रहा था। आम के पेड़ों में लगे बौर और बेर सहित अन्य फल भी झड़ गए।

गौरतलब है कि मौसम विभाग ने बिलासपुर संभाग सहित उत्तरी छत्तीसगढ़ में पहले ही अलर्ट जारी कर तेज हवा तूफान के बीच बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी थी। आगामी 24 घंटे के दौरान खराब मौसम से राहत की संभावना नहीं है जिले में शाम को अचानक आये मौसम में बदलाव के बाद धूल भरी आंधी और बारिश होने लगी।

Next Story