Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'किताबों में है जीने की कला से लेकर विचारों की आधारशिला', वर्ल्ड बुक डे पर सीएम भूपेश का ट्वीट

सीएम बोले- किताबें हमारी वही सच्ची दोस्त हैं। पढ़िए पूरी खबर-

किताबों में है जीने की कला से लेकर विचारों की आधारशिला, वर्ल्ड बुक डे पर सीएम भूपेश का ट्वीट
X

रायपुर। हर साल 23 अप्रैल को विश्व पुस्तक और कॉपीराइट दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिवस यूनेस्को और दुनिया भर के अन्य संबंधित संगठनों द्वारा लेखकों, पुस्तकों को दुनिया भर में सम्मान देने, पढ़ने की कला को बढ़ावा देने इत्यादि के लिए मनाया जाता है।

विश्व पुस्तक दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा कि- 'जब भी हमें निर्णय लेने या राह चुनने में असमंजस हो, हमें एक सच्चे दोस्त की आवश्यकता होती है। किताबें हमारी वही सच्ची दोस्त हैं। इनमें जीवन जीने की कला से लेकर विचारों की आधारशिलाओं तक सब कुछ दर्ज है। मुझे जब समय मिलता है मैं पढ़ता हूँ। आप सब भी समय निकालते रहिए।'

यूनेस्को ने 1995 और भारत सरकार ने 2001 में 23 अप्रैल के दिन को विश्व पुस्तक दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है।

Next Story