logo
Breaking

फेथई तूफान से प्रदेश में बढ़ी ठंड, पहली बार ठिठुरन हुई महसूस

बंगाल की खाड़ी में लगातार ताकतवर हो रहे तूफान फेथई के असर से शनिवार की रात से ही बारिश होना शुरू हुई जो रविवार की देर रात तक चलती रही। बारिश के कारण छत्तीसगढ़ शीतलहर की चपेट में है।

फेथई तूफान से प्रदेश में बढ़ी ठंड, पहली बार ठिठुरन हुई महसूस
बंगाल की खाड़ी में लगातार ताकतवर हो रहे तूफान फेथई के असर से शनिवार की रात से ही बारिश होना शुरू हुई जो रविवार की देर रात तक चलती रही। बारिश के कारण छत्तीसगढ़ शीतलहर की चपेट में है। अधिकांश हिस्से में घने बादल छाए हैं और कुछ जगह बौछारें पड़ीं। बादल और ठंडी हवा से प्रदेशभर में दोपहर का तापमान सामान्य से 4 डिग्री तक नीचे चला गया।
इस तूफान के कारण छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश और उत्तर तमिलनाडु में अगले दो दिन में हल्की मध्यम बारिश भी हो सकती है।
दिन भर ठिठुरन हुई महसूस
ठंडी हवा से लोगों को मंगलवार को भी दिन भर ठिठुरन महसूस हुई और रात की ठंड भी बढ़ गई। दोपहर बाद से ठंडी हवाएं तेज गति से चल रहीं थीं जिससे ठंडक और ज्यादा महसूस हुई। मौसम विशेषज्ञों ने तूफान का असर मंगलवार को बढ़ने तथा कुछ जगह हल्की बारिश के आसार जताए हैं।

अन्य क्षेत्र भी ठंड की चपेट में
सरगुजा और बिलासपुर संभाग का वनक्षेत्र कड़ाके की सर्दी की चपेट में आ गया और तापमान 7 डिग्री के आसपास पहुंच गया। जगदलपुर और आसपास के कई इलाकों में दोपहर एक बजे के बाद की हल्की बारिश शुरू हुई जो शाम तक जारी रही। राजधानी में भी पारा 15 डिग्री के करीब है लेकिन हवा से ठंड ज्यादा महसूस की गई।
देश भर में शीतलहर का प्रकोप
वहीं दूसरी ओर उत्तर भारत के पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी और दक्षिण में फेथई तूफान के समूचा भारत ही शीतलहर की चपेट में है और ठंड से ठिठुर रहा है। जम्मू-कश्मीर के करगिल में सोमवार की रात सबसे सर्द रात रही जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 15.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।
मौसम विज्ञान अधिकारियों ने यह जानकारी दी। कश्मीर घाटी और लद्दाख क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। वहीं श्रीनगर में तापमान शून्य से 4.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।
इन राज्यों में बफबारी का असर
जम्मू कश्मीर के साथ-साथ ठंड का असर उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश झारखंड में भी दिख रहा है। यहां इन दिनों पड़ रही हड्‍डी जमा देने वाली ठंडक से लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। समूची घाटी में पारा शून्य से नीचे है जिससे माना जा रहा है कि ठंड अभी आर बढ़ेगी
अलर्ट जारी किया गया
आंध्रप्रदेश सरकार ने बंगाल की खाड़ी से आने वाले फेथई चक्रवाती तूफान के चलते रविवार से ही राज्य सहित ओडिशा व छत्तीसगढ़ में हाई अलर्ट जारी किया है।
मौसम विभाग ने कहा है कि फेथई तूफान की गति आगामी समय में 100 किमी प्रति घंटा तक पहुंच सकती है। इस तूफान के कारण आंध्र प्रदेश और उत्तर तमिलनाडु में अगले दो दिन में बारिश भी हो सकती है।
Share it
Top