Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

6 सालों से रक्षाबंधन के दिन शहरभर की बहनों के लिए 5 ऑटो में फ्री सवारी, इस भाई ने क्यों लिया ये संकल्प, पढ़िए दिलचस्प स्टोरी...

आज से 6 साल पूर्व जब खुद की बहन को मुँहबोले भाई को राखी बांधने जाने के लिए कोई ऑटो सड़क पर न दिखी तो भाई को अपनी बहन के साथ शहरभर की बहनों की भी चिंता सताई और आने वाले रक्षाबंधन में शहरभर में रक्षाबंधन के दिन निःशुल्क ऑटो चलाने की ठान ली। पहले सिर्फ मनेन्द्रगढ़ के मौहारपारा इलाके में रहने वाले जितेंद्र खटिक ने एक ऑटो से रक्षाबंधन में बहनों को निःशुल्क सवारी कराई।

6 सालों से रक्षाबंधन के दिन शहरभर की बहनों के लिए 5 ऑटो में फ्री सवारी, इस भाई ने क्यों लिया ये संकल्प, पढ़िए दिलचस्प स्टोरी...

कोरिया. आज से 6 साल पूर्व जब खुद की बहन को मुँहबोले भाई को राखी बांधने जाने के लिए कोई ऑटो सड़क पर न दिखी तो भाई को अपनी बहन के साथ शहरभर की बहनों की भी चिंता सताई और आने वाले रक्षाबंधन में शहरभर में रक्षाबंधन के दिन निःशुल्क ऑटो चलाने की ठान ली। पहले सिर्फ मनेन्द्रगढ़ के मौहारपारा इलाके में रहने वाले जितेंद्र खटिक ने एक ऑटो से रक्षाबंधन में बहनों को निःशुल्क सवारी कराई।

फिर धीरे धीरे जितेंद्र खटिक के इस नेक काम को देखते हुए जितेंद्र के दो भाई विनोद, पवन और राकेश और दोस्त संजू वेल्डर ने भी इस नेक काम मे हाथ बंटाना शुरू कर दिया और अब 5 ऑटो रक्षाबंधन के दिन बीते 6 सालों से शहरभर की बहनों को भाई के घर राखी बांधने के लिए निःशुल्क ले जा रहे हैं। जितेंद्र के इस नेक काम के कारण आज सारा शहर जितेंद्र को जान रहा है। जितेंद्र ऑटो संघ मनेन्द्रगढ़ के अध्यक्ष भी हैं वे कहते हैं कि अन्य ऑटो वालो को व प्रशासन को भी रक्षाबंधन के दिन ऐसी ही कोई नेक पहल करनी चाहिए।

1 ऑटो से 5 ऑटो

रक्षाबंधन पर बहनों को निःशुल्क ऑटो उपलब्ध कराने वाले जितेंद्र का कहना है कि पहले मेरे पास सिर्फ एक ऑटो था। जब से मैंने 6 साल पहले बहनो को रक्षाबंधन पर निःशुल्क ऑटो उपलब्ध कराई तब से बहनों के आशीर्वाद से मेरी जिंदगी में बरकत आ गयी। 1 ऑटो से 2 ऑटो और अब 5 ऑटो मेरे पास हैं और मैं 5 ऑटो से बहनों को निःशुल्क रक्षाबंधन पर उनके भाइयो के पास ले जाता हूं।

Share it
Top