logo
Breaking

एक साथ जन्में चार बच्चों में से तीन की मौत, एक की हालत गंभीर

प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी आंबेडकर अस्पताल में मंगलवार को जन्में चार प्रीमेच्योर बच्चों में से तीन की गुरुवार को मौत हो गई। इनमें से बचे एक बच्चे की हालात गंभीर बताई जा रही है।

एक साथ जन्में चार बच्चों में से तीन की मौत, एक की  हालत गंभीर

प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी आंबेडकर अस्पताल में मंगलवार को जन्में चार प्रीमेच्योर बच्चों में से तीन की गुरुवार को मौत हो गई। इनमें से बचे एक बच्चे की हालात गंभीर बताई जा रही है।

गौरतलब है मंगलवार रात सीजेरियन डिलीवरी में कचना निवासी 28 वर्षीय इश्वरी साहू ने चार बच्चों को जन्म दिया था। जन्म के समय से चारों बच्चों की स्थिति गंभीर बनी हुई थी इसलिए इन्हें पीडियाट्रिक आईसीयू में रखा गया था।
रोग विभाग के डॉक्टर्स की टीम इन पर लगातार नजर रखे हुए थे। पल-पल रिपोर्टिंग की जा रही थी। लेकिन इनमें से तीन बच्चों की गुरुवार को मौत हो गई। एक अभी भी आईसीयू में है। उसकी हालत भी गंभीर बनी हुई है।
अस्पताल प्रबंधन से मिली जानकारी के मुताबिक इश्वरी साहू को डॉक्टर्स ने पूर्व में ही बता दिया था कि पेट में एक नहीं बल्कि 4 बच्चे हैं। सोनोग्राफी में डॉक्टर्स ने स्थिति स्पष्ट कर दी थी। महिला की स्थिति को देखते हुए डॉक्टर्स ने तय किया कि समय के पूर्व (सात माह) ही डिलीवरी करवानी होगी। नहीं करवाने पर मां को खतरा हो सकता है।
अस्पताल पीआरओ शुभ्रा सिंह ने बताया बच्चों को बचाने का डॉक्टर्स ने हर संभव प्रयास किया, लेकिन उनके जन्म के वक्त ही वजन कम था और वे पूरी तरह से विकसित नहीं हो सके थे। फिलहाल महिला की हालात स्थिर है, बता दें कि उसने दो लड़के और दो लड़कियों को जन्म दिया था।
Share it
Top