Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़/ आयुष्मान भारत योजना पर ग्रहण, पूरे प्रदेश में इलाज बंद

सोमवार को धरना-प्रदर्शन के दौरान दो टूक में यह स्पष्ट कर दिया गया है कि जब तक पुराना भुगतान और साफ्टवेयर की समस्या का समाधान नहीं किया जाता, वे आयुष्मान भारत योजना का बहिष्कार जारी रखेंगे।

छत्तीसगढ़/ आयुष्मान भारत योजना पर ग्रहण, पूरे प्रदेश में इलाज बंद
X

सोमवार को धरना-प्रदर्शन के दौरान दो टूक में यह स्पष्ट कर दिया गया है कि जब तक पुराना भुगतान और साफ्टवेयर की समस्या का समाधान नहीं किया जाता, वे आयुष्मान भारत योजना का बहिष्कार जारी रखेंगे।

आईएमए ने दो टूक में कहा कि जब तक उन्हें पुराना भुगतान नहीं किया जाता, मरीजों का इलाज करना संभव ही नहीं।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन आयुष्मान योजना लागू होने से पहले ही यह चाहता है कि स्मार्ट कार्ड से उन्होंने जो इलाज किया है, उसका उन्हें पूरा भुगतान कर दिया जाए। इसे लेकर उन्होंने आयुष्मान भारत योजना के तहत मरीजों के इलाज से हाथ खींच रखा है।

सोमवार को इस मामले में आईएमए के नेतृत्व में डाक्टरों ने पुराना नर्सिंग हाॅस्टल में प्रदर्शन कर अपना विरोध जताया था। इसके बाद उन्होेंने इस मामले में धरनास्थल पर ही आपस में चर्चा की और यह फैसला लिया कि जब तक समस्या का निराकरण नहीं हो जाए, वे अपना बहिष्कार जारी रखेंगे।


सौंपा ज्ञापन..

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष डा. अशोक त्रिपाठी, और हास्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डा. राकेश गुप्ता ने आयुष्मान भारत योजना के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर इस योजना की समस्या और लंबित राशि का पूरा भुगतान होने तक काम बंद रखने की जानकारी दी है। ज्ञापन में जिक्र किया गया है कि योजना में भुगतान की प्रक्रिया बहुत की अपारदर्शी है।
करोड़ों में बाकी है भुगतान
स्मार्ट कार्ड योजना के तहत अस्पतालों द्वारा किए गए उपचार की लंबित राशि करोड़ों में हैं। बीमा कंपनी से करार खत्म होने के दौरान कुछ राशि का भुगतान हुआ था। इसके बाद कंपनी ने अस्पतालों को राशि देना ही बंद कर दिया था। बाद में स्वास्थ्य अफसरों की पहल पर इन अस्पतालों को एक बड़ी राशि का भुगतान किया गया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story