Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रसव पीड़ा से कराह रही गर्भवती महिला को एम्बुलेंस नहीं मिलने पर डायल-112 की टीम ने पहुँचाया अस्पताल

आनन-फानन में एंबुलेंस को कॉल किया. लेकिन 102 वाहन नहीं होने की वजह से मदद नहीं मिल रही थी तो मौके पर पहुंची डायल 112 की टीम ने दर्द से तड़पती प्रसूता को अपने ही वाहन से हॉस्पिटल पहुंचाने का निर्णय लिया. उन्होंने रतनपुर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक पहुंचाया. निश्चित ही डायल 112 की टीम जन सेवा के लिए समर्पित है जो की सराहनीय कार्य है.

प्रसव पीड़ा से कराह रही गर्भवती महिला को एम्बुलेंस नहीं मिलने पर डायल-112 की टीम ने पहुँचाया अस्पताल
X

कोटा. लॉकडाउन के इस विपरीत परिस्थितियों में सबसे अधिक समस्याएं मेडिकल इमरजेंसी के दौरान सामने आ रहे हैं. चारों तरफ कोरोनावायरस के संक्रमण का खतरा है. बावजूद इसके स्वास्थ्य कर्मचारी और पुलिस कर्मचारी अपनी सेवाओं में जुटे हुए हैं.

ऐसे ही संकट की घड़ी में डायल 112 की टीम लोगों की मदद करने हर संभव प्रयास कर रही है. रतनपुर में सामने आए एक वाकिये ने उनकी कर्मठता को उजागर किया. जब रतनपुर की रानी पारा में रहने वाली सीता रोहिदास को डिलीवरी पेन होना शुरू हो गया.

आनन-फानन में एंबुलेंस को कॉल किया. लेकिन 102 वाहन नहीं होने की वजह से मदद नहीं मिल रही थी तो मौके पर पहुंची डायल 112 की टीम ने दर्द से तड़पती प्रसूता को अपने ही वाहन से हॉस्पिटल पहुंचाने का निर्णय लिया. उन्होंने रतनपुर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक पहुंचाया. निश्चित ही डायल 112 की टीम जन सेवा के लिए समर्पित है जो की सराहनीय कार्य है.





Next Story