logo
Breaking

राजधानी में स्वास्थ्य अमला हुआ सतर्क, स्वास्थ्य शिविर लगाकर खोज रहे डेंगू के मरीज

दुर्ग भिलाई में डेंगू से कई मौतों और सीएमएचओ पर कार्रवाई के बाद अब राजधानी का प्रशासनिक अमला भी सतर्क हो गया है. आज से मौसमी बीमारियों जैसे डेंगू, मलेरिया आदि की रोकथाम तथा इनसे बचाव के संबंध में लोगों को जागरूक करने कलेक्टर ओ.पी.चौधरी के निर्देशन पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहर के वार्डो में लगातार विशेष स्वास्थ्य व जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।

राजधानी में स्वास्थ्य अमला हुआ सतर्क, स्वास्थ्य शिविर लगाकर खोज रहे डेंगू के मरीज

दुर्ग भिलाई में डेंगू से कई मौतों और सीएमएचओ पर कार्रवाई के बाद अब राजधानी का प्रशासनिक अमला भी सतर्क हो गया है. आज से मौसमी बीमारियों जैसे डेंगू, मलेरिया आदि की रोकथाम तथा इनसे बचाव के संबंध में लोगों को जागरूक करने कलेक्टर ओ.पी.चौधरी के निर्देशन पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहर के वार्डो में लगातार विशेष स्वास्थ्य व जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.एस. शांडिल्य ने बताया कि ये स्वास्थ्य शिविर 12 अगस्त को खोखोपारा के रावनपट्टी राकुण्ड वार्ड नंबर 16 में आयोजित किया गया है। इसी तरह 13 अगस्त पुराना बीएसयूपी वार्ड नं. 63 तथा कबीर नगर वार्ड नंबर 2 में, 14 अगस्त को रामनगर वार्ड नं.19 में, 15 अगस्त को अमलीडीह वार्ड नं.46 में, 16 अगस्त को कालीमाता आंगनबाड़ी वार्ड नं.30 में तथा शास्त्री बाजार वार्ड नं. 40 में, 17 अगस्त को गंगानगर वार्ड नं.-5 में, 18 अगस्त को गोकुल नगर पानी टंकी के पास स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया जाएगा।
19 अगस्त को ये स्वास्थ्य शिविर बीएसयूपी कॉलोनी सरोना वार्ड नं.-70 में, 20 अगस्त को आरडीए कॉलोनी वार्ड नं. 68 में, दंतेश्वरी मंदिर के पास वार्ड नं.-34, लक्ष्मण नगर वार्ड नं. 18 और दंतेश्वरी मंदिर के पास वार्ड नं.-34 में, 23 अगस्त को टिकरापारा वार्ड नं.-55 व मच्ची तालाब वार्ड नं.-8, 27 अगस्त को सतनाम पारा, 29 अगस्त को खमतराई बाजार वार्ड नं.-7 में, 30 अगस्त को बजरंग चौक मठपारा में तथा 31 अगस्त को साहूपारा वार्ड नं.-22 में लगेंगे।

मितानिन घर-घर जाकर कर रहीं सर्वे

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शॉडिल्य ने बताया कि सभी मितानिनों को आर.डी.किट प्रदाय किया गया है। जो संभावित क्षेत्रों में घर-घर जाकर बुखार पीड़ित लोगों का किट के माध्यम से परीक्षण कर रही है और डेंगू के संभावित मरीज पाए जाने पर उन्हें तत्काल जिला चिकित्सालय व शहरी स्वास्थ्य केन्द्रों में रिफर करेंगी साथ ही डेंगू और मलेरिया से बचाव के संबंध में लोगों को जागरूक भी कर रही है।

रेल्वे स्टेशन में भी स्वास्थ्य शिविर का आयोजन

डॉ. शांडिल्य ने बताया कि रेल्वे स्टेशन में रेलवे अस्पताल अधीक्षक के माध्यम से विशेष स्वास्थ्य शिविर लगाकर बुखार पीड़ित लोगों की जांच की जाएगी साथ ही लोगों को बीमारियों से बचाव के संबंध में जनजागरूकता कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे।

एमबीबीएस इंटर्नशिप के छात्र भी जनजागरूकता अभियान में शामिल

डॉ. शांडिल्य ने बताया मौसमी बीमारियों की रोकथाम ओर उससे बचाव के संबंध में चलाए जा रहे जनजागरूकता अभियान में एमबीबीएस इंटर्नशिप के छात्रों का भी सहयोग लिया जा रहा है। एमबीबीएस के छात्र शहर के संभावित इलाकों के स्कूल और कॉलजों में जाकर वहां डेंगू, मलेरिया आदि मौसमी बीमारियों से बचाव के संबंध में छात्रों को आवश्यक जानकारी प्रदान करेंगे।

खाली कराएं जा रहे कुलरों का पानी

मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग के अमलों द्वारा नागरिकों को समझाइश दी जा रही है कि वर्तमान में उपयोग में नहीं आ रहे कुलरों, पुराने रद्दी टायरों या ऐसे कंटेनरों जिसमें पानी जमा हो जाता है, से भरे हुए पानी को भी खाली कराएं। इन अमलों के समझाइश और प्रयास से अभी तक साढ़े 5 हजार से अधिक कुलरों से पानी खाली भी कराया गया और लगभग इतनी ही टंकियों और कंटेनरों की भी जांच की गई है।
Share it
Top