Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

KTU में लॉकडाउन के बीच तोड़फोड़, रेडियो स्टूडियो में फिर से लग रहा टाइल्स

एनएसयूआई ने दी है विरोध की चेतावनी। पढ़िए पूरी खबर-

KTU में लॉकडाउन के बीच तोड़फोड़, रेडियो स्टूडियो में फिर से लग रहा टाइल्स
X

रायपुर। कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय एक बार फिर विवादों में आ गया है। इस बार बखेड़ा दो साल पहले ही निर्मित हुए रेडियो और टीवी स्टूडियो के टाइल्स उखाड़े जाने को लेकर हुआ है।

जानकारी के अनुसार विश्वविद्यालय को रूसा द्वारा लगभग 20 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया था, जिसमें से लगभग 7 करोड़ रुपए का उपयोग कर इस स्टूडियो का निर्माण साल भर पहले हुआ था। छात्रों को प्रायोगिक ज्ञान देने के लिए यह निर्माण किया गया था। अब गुणवत्ता वाले टाइल्स उखड़वाकर नए टाइल्स लगवाने की तैयारी है।

गौरतलब है कि इस स्टूडियो के निर्माण के वक्त भी तत्कालीन कुलपति प्रो. मानसिंह परमार पर भ्रष्टाचार और रूसा के पैसों के दुरुपयोग के आरोप लगे थे। निर्माण के वक्त स्टूडियो में नीचे टाइल्स लगाए गए थे, जिसे अब लॉकडाउन के वक्त तोड़ा जा रहा है। भवन में क्षति या इस तरह की कोई भी शिकायत नहीं थी। पूरे मामले पर विवि के कुलपति प्रो. बलदेव भाई शर्मा का कहना है कि इससे जुड़ी सारी प्रक्रिया उनके पदभार ग्रहण करने के पूर्व ही हो गई थी। कुलसचिव से इस संबंध में जानकारी प्राप्त करने प्रयत्न किया गया, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

कमीशनखोरी का आरोप

छात्र संगठन बीते कई सालों से छात्रावास में मूलभूत सुविधाओं की मांग कर रहे हैं। उन्होंने विवि प्रबंधन पर निर्माण कार्य की आड़ में कमीशन का आरोप लगाया है। लॉकडाउन के बीच कई संस्थाओं द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गई है। पत्रकारिता विवि ने इस दिशा में अब तक कोई कदम नहीं उठाया है और न ही किसी भी तरह की सूचना छात्रों को दी गई है। एनएसयूआई ने लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था करने के स्थान पर तोड़फोड़ को लेकर रोष जाहिर करते हुए विरोध की चेतावनी दी है।

इस मामले में कुशाभाऊ ठाकरे के कुलपति प्रो. बलदेव भाई शर्मा ने बताया कि –'टाइल्स उखड़वाने अथवा नए टाइल्स लगवाने संबंधित प्रक्रिया मेरे आने से पहले ही हो गई थी। इस बारे में आपको कुलसचिव ही पूरी जानकारी दे पाएंगे।'

Next Story