Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गलत इंजेक्शन लगाने से HIV पीड़िता की मौत, जब मानव अधिकार संगठन के पदाधिकारी पहुँचे अस्पताल...

एचआईवी पीड़िता को गलत इंजेक्शन लगाने से मौत हो गई. मामले की जानकारी मिलते ही मानव अधिकार संगठन के पदाधिकारी रायगढ़ के मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुँचे. संगठन के पदाधिकारियों का आरोप है कि एचआईवी पीड़ित महिला की मौत नर्स के द्वारा गलत इंजेक्शन लगाने से हुई है.

गलत इंजेक्शन लगाने से HIV पीड़िता की मौत, जब मानव अधिकार संगठन के पदाधिकारी पहुँचे अस्पताल...
X

रायगढ़. एचआईवी पीड़िता को गलत इंजेक्शन लगाने से मौत हो गई. मामले की जानकारी मिलते ही मानव अधिकार संगठन के पदाधिकारी रायगढ़ के मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुँचे. संगठन के पदाधिकारियों का आरोप है कि एचआईवी पीड़ित महिला की मौत नर्स के द्वारा गलत इंजेक्शन लगाने से हुई है. मानव अधिकार संगठन के लोगों का यह भी कहना है कि महिला एचआईवी जैसे गंभीर बीमारी से पीड़ित थी, इसके बावजूद भी उसे जनरल वार्ड में सामान्य मरीजों के बीच रखना डॉक्टरों की घोर लापरवाही है. संगठन ने महिला की संदिग्ध मौत पर जाँच की भी मांग की है.

रायगढ़ के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में विगत सोमवार को 45 वर्षीय शर्मीला बाई को भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों ने मरीज की जाँच कर एक्सरे और सोनोग्राफी कराने के निर्देश दिए थे. जाँच में पता चला कि महिला एचआईवी से पीड़ित है. जानकारी के बावजूद भी महिला को सामान्य मरीजों के बीच जनरल वार्ड में रखा गया था. महिला को साँस लेने में भी तकलीफ थी. डॉक्टरों ने महिला को ऑक्सीजन नहीं लगाया.

बीती मंगलवार रात को महिला की तबीयत बिगड़ गई. महिला जोर-जोर से कराहने लगी. बताया जा रहा है की इसी बीच नर्स ने महिला को नींद का इंजेक्शन लगा दिया. इंजेक्शन लगाने के बाद बीती देर रात महिला की मौत हो गई. मानव अधिकार संगठन के अध्यक्ष बिज्जू ठाकुर ने मामले की जाँच की मांग की है. इधर एचआईवी पीड़िता के परिजनों का भी कहना है कि शर्मीला बाई की मौत इंजेक्शन लगाने के बाद ही हुई है.

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story