Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चक्रवाती तूफान एम्फन का छत्तीसगढ़ में असर, अंधड़ और बिजली गिरने की चेतावनी

तूफान के असर से उत्तरी छत्तीसगढ़ में 18 से 20 मई तक मौसम का बिगड़ा रहेगा मिजाज। पढ़िए पूरी खबर-

चक्रवाती तूफान एम्फन का छत्तीसगढ़ में असर, अंधड़ और बिजली गिरने की चेतावनी
X

रायपुर। लोग कोरोना वायरस और लॉकडाउन से होने वाली परेशानियों से अभी उबर भी नहीं पाए हैं, और एक नई बला की चर्चा शुरू हो गई है। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच 'तूफान एम्फन' भी कहर ढा सकता है। बंगाल की खाड़ी में सक्रिय चक्रवाती तूफान एम्फन से वहां के समुद्र में सुस्पष्ट अवदाब क्षेत्र बना है। इसका प्रभाव छत्तीसगढ़ पर भी पड़ने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि इसका प्रभाव रायपुर में कम देखने को मिलेगा, लेकिन फिर भी सतर्क रहने की चेतावनी दी गई है।

मौसम विज्ञानी कहते हैं कि रायपुर के आसपास क्षेत्र में सिर्फ बादल छाए रहेंगे बाकी उत्तरी छत्तीसगढ़ में इसका असर दिखेगा। अगले 48 घंटे बाद पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तट पर टकराने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। इसके असर से उत्तरी छत्तीसगढ़ में 18 से 20 मई तक मौसम का मिजाज बिगड़ा रहेगा। इस दौरान आसमान बादलों से ढंका रहेगा और 40 से 50 किमी की रफ्तार से हवा चलेगी। सरगुजा संभाग के अधिकांश इलाकों में बारिश के आसार हैं। एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश के साथ छीटे पड़ने की संभावना है। कुछ इलाकों इससे अंधड़ और आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी है।

रायपुर में शनिवार को अधिकतम तापमान 39.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ, जो कि सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। इसी तरह न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो कि सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे ही रहा। प्रदेश के एक या दो स्थानों पर हल्की वर्षा अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक अंडमान सागर से सक्रिय ये तूफान 18 से 20 मई तक बहुत तीव्र होकर छत्तीसगढ़ के समानांतर गुजरते हुए पश्चिम बंगाल और ओडिशा के बीच टकराएगा। इसका पहला असर दक्षिण छत्तीसगढ़ में होगा। 22 मई तक इसका प्रभाव पूरे छत्तीसगढ़ में होगा। इस दौरान 40 से 50 किमी की रफ़्‌तार से हवा चलेगी और अधिकांश जगहों में बारिश होगी। हालांकि इसका सबसे खराब असर पश्चिम बंगाल, झारखंड और ओडिशा राज्यों पर पड़ेगा।

इस संबंध में रायपुर लालपुर मौसम केंद्र के मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि- एम्फन के असर से बस्तर के इलाकों में बारिश के आसार है। इसका असर 17, 18 और 19 मई तक रहेगा। रायपुर में इसके असर से बादल छाए रहेंगे।



Next Story