Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कोरोना : रायपुर में मिला प्रदेश का छठवां पॉजिटिव, मास्क का ऐसे करें इस्तेमाल

बचाव के तरीकों को जानने के लिए पढ़े पूरी खबर-

कोरोना : रायपुर में मिला प्रदेश का छठवां पॉजिटिव, मास्क का ऐसे करें इस्तेमाल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना के छठवें मरीज की भी पुष्टि हो गई है। राजधानी के रामनगर में एक बुजुर्ग के सैम्पल के टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। दरअसल कोरोना वायरस दुनिया में तेजी से गंभीर रूप लेता जा रहा है। यह वायरल इंफेक्शन चीन समेत दुनिया के 27 देशों में अब तक फैल पहुंच चुका है। 43 हजार से ज्यादा लोग दुनियाभर में इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं और 1 हजार से ज्यादा लोगों की कोरोना वायरस की वजह से मौत हो चुकी है। इस वायरस का खौफ लोगों के मन में कितना ज्यादा हो गया है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आंध्र प्रदेश में एक शख्स ने कोरोना वायरस से संक्रमित होने का शक होने पर फांसी लगाकर जान दे दी। बाद में डॉक्टरों की जांच में पता लगा कि उसे सामान्य वायरल फीवर था और वह कोरोना से पीड़ित नहीं था।

बचाव का एकमात्र उपाय सावधानी और सुरक्षा

दरअसल, इस बीमारी के लक्षण बेहद कॉमन हैं और कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से पीड़ित न हो तब भी उसमें ऐसे लक्षण दिख सकते हैं। जैसे-नाक बहना, सिर में तेज दर्द, खांसी और कफ, गला खराब, बुखार,थकान और उल्टी महसूस होना, सांस लेने में तकलीफ, निमोनिया, ब्रॉन्काइटिस आदि। कोरोना वायरस की वजह से रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट यानी श्वसन तंत्र में इंफेक्शन हो जाता है। चूंकि अब तक इस बीमारी का कोई इलाज खोजा नहीं जा सका है, लिहाजा बेहद जरूरी है कि इस जानलेवा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं।

बैक्टीरिया वायरस से बचा सकता है मास्क

आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में टीबी और चेस्ट डिजीज डिपार्टमेंट के हेड डॉ संतोष कुमार का कहना है कि N95 मास्क बैक्टीरिया और वायरस से सुरक्षा देने में काफी मददगार है और इसलिए यह इस नए कोरोना वायरस से सुरक्षित रखने में भी मदद कर सकता है। हालांकि बाकी के साधारण या सर्जिकल मास्क वायरस के ट्रांसमिशन को नहीं रोक सकते। यही वजह है कि N95 मास्क की बिक्री काफी तेज हो गई है और कई जगहों पर तो मार्केट में इस मास्क की शॉर्टेज भी हो गई है। N95 मास्क में 6 लेयर होते हैं जो माइक्रो बैक्टीरिया और वायरस को अंदर आने से रोकता है।

मास्क कब यूज करना चाहिए

- अगर आप हेल्दी हैं तो आपको मास्क पहनने की जरूरत सिर्फ तभी है जब आप किसी बीमार व्यक्ति की देखरेख में लगे हैं, खासकर अगर वो कोरोना वायरस से पीड़ित है

- अगर आपको खांसी, सर्दी और छींक आ रही है तो मास्क का इस्तेमाल करें

- मास्क तभी असरदार साबित होगा जब आप उसके साथ हैंड हाइजीन का भी ख्याल रखें यानी नियमित रूप से हैंड वॉश करते रहें

- अगर आप मास्क यूज कर रहे हैं तो आपको पता होना चाहिए कि मास्क को सही तरीके से कैसे पहनना है और फिर उसे डिस्पोज कैसे करना है

मास्क पहनते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

- मास्क पहनने से पहले अपने हाथों को साबुन पानी या फिर ऐल्कॉहॉल बेस्ड हैंड सैनिटाइजर से अच्छी तरह से साफ कर लें

- अपनी नाक और मुंह को मास्क से अच्छी तरह से ढंक लें ताकि मास्क और चेहरे के बीच कोई गैप न रहे

- मास्क पहने हुए हैं तो उसे बार-बार गंदे हाथों से टच ना करें

- सिंगल यूज मास्क को दोबारा बिलकुल यूज न करें और हर बार एक नए मास्क का इस्तेमाल करें

- मास्क को हटाते वक्त उसे सामने से बिलकुल टच न करें और पीछे की तरफ से पकड़ कर खोलें और तुरंत ऐसे डस्टबिन में डालें जिसमें ढक्कन लगा हो

- उसके बाद एक बार फिर हाथों को साबुन पानी या सैनिटाइजर से अच्छी तरह से साफ कर लें

Next Story
Top