logo
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019 : राहुल का बड़ा दांव, सरकार बनी तो गरीबों को न्यूनतम आय की गारंटी

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मिशन 2019 का आगाज करते हुए एक बड़ा दांव चला है। नया रायपुर में किसानों के बीच उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो हिंदुस्तान की गरीब जनता को न्यूनतम आमदनी दी जाएगी।

लोकसभा चुनाव 2019 : राहुल का बड़ा दांव, सरकार बनी तो गरीबों को न्यूनतम आय की गारंटी

छत्तीसगढ़ की धरा पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मिशन 2019 का आगाज करते हुए एक बड़ा दांव चला है। नया रायपुर में किसानों के बीच उन्होंने ऐलान किया कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो हिंदुस्तान की गरीब जनता को न्यूनतम आमदनी दी जाएगी। कांग्रेस इसके लिए न्यूनतम इनकम गारंटी योजना लेकर आएगी। उन्होंने कहा कि यह एेतिहासिक काम होगा और कोई भी भूखा नहीं रहेगा।

राहुल गांधी नया रायपुर स्थित राज्योत्सव मैदान में किसान आभार सम्मेलन में प्रदेश भर से आए किसानों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं काे संम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जो मैं कहता हूं वह मैं करके दिखाता हूं। चाहे किसानों की कर्जमाफी हो, अधिग्रहित जमीनें वापस करने का मामला हो। उन्होंने कहा पिछले कार्यकाल में कांग्रेस सरकार ने मनरेगा में 100 दिन रोजगार दिया। सूचना का अधिकार दिया। इस बार सरकार बनी तो हम ऐसा कदम उठाएंगे जो दुनिया की किसी सरकार ने नहीं किया। न्यूनतम आमदनी के लिए भी हमने निर्णय ले लिया है। हिंदुस्तान के हर गरीब व्यक्ति को 2019 के बाद कांग्रेस की सरकार न्यूनतम आय देने जा रही है।

राहुल गांधी ने कहा कि मैं छत्तीसगढ़ की जनता, युवाओं, किसानों का दिल से धन्यवाद करना चाहता हूं। आपने कांग्रेस पार्टी पर भरोसा किया। आपने मामूली जिम्मेदारी नहीं दी है। आपने कांग्रेस पार्टी को भारी जिम्मेदारी दी है। हम दिल से जिम्मेदारी पूरी करने की कोशिश करेंगे।

केंद्र सरकार दो तरह का देश बनाना चाहती है

गांधी ने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि भाजपा के नेता जो 15 सालों में नहीं कर पाए, वो कांग्रेस ने 2 दिन में कर दिया। देश में पैसे की कमी नहीं है। देश की भाजपा की केंद्र सरकार दो तरह का देश बनाना चाहती है। एक जहां ओर ललित मोदी, विजय माल्या जैसे लोगों को धन मिल जाएगा। अनिल अंबानी को 30 हजार करोड़ रुपए और एयरक्राॅफ्ट, इंटरनेट, सुविधाएं मिल सकती हैं। दूसरा वो देश हैं जहां हम और आप जैसे लोग होंगे जिन्हें कुछ नहीं मिल सकता। मिल सकता है तो सिर्फ सुनने के लिए मन की बात।

राहुल गांधी ने कहा कि एक उद्योगपतियों का और दूसरा गरीबों का भारत। दो हिंदुस्तान बने हैं जिसमें एक अनिल अंबानी का। इसमें यहां के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा। फ्रांस के लोगों को रोजगार मिलेगा।

NCC की रैली में बोले पीएम मोदी- हम छेड़ते नहीं लेकिन किसी ने छेड़ा तो हम छोड़ते नहीं

छत्तीसगढ़ पूरी दुनिया के धान का कटाेरा बनेगा

राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों से जमीन पंचायत से पूछकर ली जाएगी। मामले में उद्योगपतियों ने तो पांच साल में काम नहीं किया तो, वापस की जाएगी। छत्तीसगढ़ देश का ही नहीं, पूरी दुनिया के धान का कटोरा बनेगा। इसके विकास के लिए सरकार काम करेगी। इसे पूरी दुनिया में ले जाया जाएगा। हर किसी की डाइनिंग टेबल पर खाने के साथ छत्तीसगढ़ का चावल होगा।

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि यहां फूड प्रोसेसिंग की चेन बनेगी। यहां जो किसान उगाता है, उसे पूरी दुनिया में पहुंचाएंगे। कांग्रेस ने हरित क्रांति का काम किया। 60 साल पहले हिंदुस्तान के लोगों का पेट नहीं भरता था। कांग्रेस पार्टी ने हरित क्रांति की नींव रखी और किसानों के हित में काम किया।

बजट 2019 : व्यापारियों और दुकानदारों ने डिजिटल पेमेंट को टैक्स छूट स्कीमों के दायरे में लाने की मांग की

किसानों का कर्जा माफ करने मोदी सरकार के पास पैसा नहीं

गांधी ने कहा, हमारी सरकार बनेगी तो जनता के मन की बात सुनी जाएगी और उनके मन के अनुसार काम करेंगे। हमारे सब नेताओं ने मिलकर एकसाथ ये चुनाव लड़ा। काफी समय से यहां भाजपा की सरकार थी। जब भी हम किसानों के कर्जा माफ की बात करते थे, तब भाजपा सरकार जवाब देती थी कि हमारे पास पैसा नहीं है। यही हाल हर उस प्रदेश में थी, जहां भाजपा सरकार थी। दिल्ली में यही बात मोदी सरकार कहती है।

राहुल गांधी ने कहा कि हिंदूस्तान के चौकीदार के पास किसानों के कर्ज माफ करने के लिए पैसा नहीं है। जहां नरेंद्र मोदी जाते हैं, किसानों को सही दाम देने की बात करते हैं, लेकिन 15 साल में कुछ नहीं करते। पहले बारिश और ओला गिरने के बाद भी किसानों को फायदा नहीं दिया जाता था। अब ऐसा नहीं होगा।

राहुल ने ऋण मुक्ति पत्र बांटे, किसानों ने सेल्फी ली

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाणपत्र का वितरण किया। इस दौरान किसानों ने राहुल गांधी के साथ सेल्फी ली। जिन 25 किसानों को राहुल गांधी ने प्रमाण पत्र दिया । इनमें 3 लाख 22 हजार 318 रुपए की ऋणमाफी पाने वाले किसान भागवत भी शामिल थे।

उनमें फगुवाराम, भोजराम, चंद्रशेखर, श्रीमती नीराबाई, रमेश सिंह, नेतराम, श्रीमती रामबाई, श्यामलाल, माखन, राजकुमार, नंदकुमार, किताब बाई, विकास कुमार, श्रीमती अनिता, भागवत, हरिशंकर और पांचोबाई, खोरबाहरीन शामिल हैं। वहीं कार्यक्रम के दौरान नंदकुमार, विकासकुमार ने राहुल गांधी के साथ सेल्फी भी ली।

ये है न्यूनतम आय की गारंटी

न्यूनतम आय की गारंटी एक तरह से 'यूनिवर्सल बेसिक इनकम स्कीम' ही है। इसके तहत सरकार देश के गरीबों को बिना शर्त एक तय रकम देती है। इसका मतलब यह हुआ कि अगर यह योजना लागू होती है तो सरकार को देश के हर गरीब नागरिक को एक निश्चित रकम एक निश्चित अंतराल पर देनी होगी। हालांकि, इस स्कीम के तहत 'गरीब' की परिभाषा क्या होगी, यह सरकार ही तय करेगी।

Share it
Top