Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नगरीय निकाय चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन करने तीन स्तरों पर सर्वे कराएगी कांग्रेस

नगरीय निकायों के चुनाव को लेकर आरक्षण की स्थिति स्पष्ट होने के बाद अब कांग्रेस में प्रत्याशी चयन के लिए तीन स्तरों पर सर्वे दंतेवाड़ा उप चुनाव के बाद शुरू होगा। विधानसभा चुनाव के दौरान कराए गए सर्वे के नतीजे को देखते हुए महापौर, नगर पालिका अध्यक्ष और नगर पंचायत अध्यक्षों के लिए प्रत्याशी चयन के लिए बूथ, वार्ड और कार्यकर्ताओ से सर्वे कराए जाएंगे।

विधानसभा उपचुनावः विपक्षी महागठबंधन पर गहराया संकट, पांचों सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी कांग्रेसAssembly By Election: Congress Will Field Candidates On Five Seats

रायपुर। नगरीय निकायों के चुनाव को लेकर आरक्षण की स्थिति स्पष्ट होने के बाद अब कांग्रेस में प्रत्याशी चयन के लिए तीन स्तरों पर सर्वे दंतेवाड़ा उप चुनाव के बाद शुरू होगा। विधानसभा चुनाव के दौरान कराए गए सर्वे के नतीजे को देखते हुए महापौर, नगर पालिका अध्यक्ष और नगर पंचायत अध्यक्षों के लिए प्रत्याशी चयन के लिए बूथ, वार्ड और कार्यकर्ताओ से सर्वे कराए जाएंगे। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार नगरीय निकाय चुनाव काे पार्टी गंभीरता से ले रही है। पूरे प्रदेश में होने वाले 168 निकायों के चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन करने हर स्तर पर सावधानी रखी जाएगी। बताया गया है कि कार्यकर्ताओं की पसंद का पूरा ध्यान रखा जाएगा। वार्डस्तर पर होने वाले प्रत्याशी को भी इसी प्रक्रिया से चुनने का प्रयास होगा। नवंबर दिसंबर में होने वाले चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। प्रदेश के हर नगरीय निकाय चुनाव को लेकर इस माह के अंत से सर्वे का कार्य शुरू हो जाएगा। इन सभी सर्वे को लेकर जिला कांग्रेस कमेटी के माध्यम से जिला चुनाव समिति ऐसे प्रत्याशियों की अनुसंशा करेगी, जो चुनाव जीतने में सक्षम हों। साथ ही यह भी ध्यान रखा जाएगा कि वार्ड और नगरीय निकाय क्षेत्र में उनकी छवि के अलावा कांग्रेस के सक्रिय सदस्य रहे लोगों को ही चुनाव में उतारा जाए।

जिला चुनाव समिति का होगा गठन

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर जिलास्तर पर एक जिला चुनाव समिति का गठन किया जाएगा। समिति बूथ, वार्ड और कार्यकर्ताओं की सर्वे रिपोर्ट के आधार पर प्रत्याशियों का पैनल बनाकर उसे राज्य चुनाव समिति के सामने रखेगी। सभी नामों के आधार पर प्रत्याशी चयन पारदर्शी तरीके से किया जाएगा। नगरीय निकाय चुनाव को लेकर महापौर और नगर पालिका क्षेत्र के लोगों के बीच पार्टी के हरस्तर पर श्रेष्ठ नामों को रखा जाएगा।

विधायकों को मिलेगी जिम्मेदारी

बताया गया है कि नगरीय निकाय चुनाव को लेकर नगरीय निकाय क्षेत्र के विधायकों को उस निकाय में चुनाव जिताने की जिम्मेदारी दी जाएगी। वहीं प्रत्याशी चयन में भी उनकी भूमिका होगी। कांग्रेस ने अभी से इसके लिए जिले के प्रभारी मंत्रियों को सक्रिय कर दिया है। बताया जाता है कि प्रभार जिले के मंत्रियों को विधायकों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करने कहा गया है। ऐसे निकाय क्षेत्र जहां पिछले समय कांग्रेस को पराजय का मुंह देखना पड़ा था, वहां विशेष ध्यान दिया जाएगा।

प्रदेश के निगम क्षेत्र में विधायकों की दावेदारी

प्रदेश के तीन बड़े शहरों में महापौर का पद सामान्य वर्ग से होने को लेकर अब यहां के विधायकों ने भी अपनी दावेदारी की है। ऐसे में पार्टी को यह निर्णय लेना है कि विधायकों को चुनाव लड़ाया जाए कि नहीं। अभी इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया गया है, फिर भी कहा जा रहा है कि मजबूत दावेदारी होने पर ही विधायकों को इसके लिए उतारा जाएगा।

Next Story
Share it
Top