logo
Breaking

कांग्रेस सरकार का बजट घोषणा पत्र का होगा आइनाः भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वित्तमंत्री के रूप में अपना पहला सालाना बजट शुक्रवार को पेश करेंगे। सूत्रों के अनुसार बजट कांग्रेस सरकार के घोषणापत्र का आईना होगा।

कांग्रेस सरकार का बजट घोषणा पत्र का होगा आइनाः भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वित्तमंत्री के रूप में अपना पहला सालाना बजट शुक्रवार को पेश करेंगे। सूत्रों के अनुसार बजट कांग्रेस सरकार के घोषणापत्र का आईना होगा। सरकार ने अपनी सबसे महत्वाकांक्षी योजनाओं को पूरा करने का नीतिगत निर्णय लिया है। नए बजट में सरकार की यूनिर्वसल फूड तथा यूनिर्वसल हेल्थ केयर सहित नरवा, गरुआ, घुरुवा, बारी जैसी योजनाओं के लिए बड़े प्रावधान सामने आने की उम्मीद है।

बताया गया है कि घोषणापत्र से संबंधित वादे पूरे करने अन्य योजनाओं के लिए राशि दी जाएगी। बताया जाता है कि राज्य बनने के बाद से अब तक का यह सबसे बड़ा बजट होगा। इसका आकार लगभग एक लाख करोड़ के लगभग होने का अनुमान लगाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने वादे के मुताबिक किसानों के लिए की गई घोषणाओं से संबंधित फैसले पहले ही कर लिए हैं।

इसमें कर्जमाफी, किसानों को धान का मूल्य 2500 रुपए प्रति क्विंटल देना आदि का क्रियान्वयन किया गया है। सरकार प्रदेश के सभी राशनकार्ड धारियों को 35 किलो चावल देने की घोषणा बजट में कर सकती है। बताया गया है कि हर राशनकार्ड धारी परिवार को 35 किलो चावल देने से सरकार के खजाने पर करीब 400 करोड़ रुपए का बोझ आएगा। इसके साथ बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता, 60 साल से अधिक उम्र के किसानों को पेंशन जैसी कई घोषणाओं को पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

स्वास्थ्य के लिए भी किया जाएगा आवंटन

राज्य सरकार ने स्वास्थ्य संबंधी मामले को लेकर जो घोषणा की है उसका प्रभाव बजट में दिखने की संभावना है। राज्य सरकार प्रदेश में भी लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधा देने पर विचार कर रही है। माना जा रहा है इस योजना के लिए सरकार स्वास्थ्य विभाग के बजट में बड़ा प्रावधान कर सकती है। सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य मंत्री ने अपनी थाईलैंड यात्रा से संबंधित रिपोर्ट से कैबिनेट को अवगत कराया है। इस योजना को बजट में लाने की तैयारी है।

सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट के लिए बड़ी राशि

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ड्रीम प्रोजेक्ट नरवा, गरुवा, घुरुवा, बारी को छत्तीसगढ़ की चार पहचान के रूप में बताया गया है। इसे बजट में स्थान दिया जाएगा। प्रोजेक्ट के तहत हर ब्लॉक के 15 गांवों को चिन्हित किया गया है। इन गांवों की संख्या प्रदेशभर में 2 हजार 190 है। इन सभी गांवों में गोठान बनाया जाएगा। इस काम के लिए बजट में इस संबंध में प्रस्ताव लाया जाएगा। सरकार ने किसानों से ये वादा भी किया है कि पिछली सरकार द्वारा किसानों के धान का बोनस जो दो साल तक नहीं दिया गया है, उसे भी देने बजट में घोषणा कर सकते हैं।

बिजली बिल होगा हाफ

कांग्रेस सरकार के बजट में एक महत्वपूर्ण घोषणा बिजली बिल हाफ करने को लेकर भी घोषणा की जा सकती है। सरकार की ओर से अब तक किसानों को बिजली बिल में छूट मिलती थी। अब आम घरेलू उपभोक्ताओं को इसमें राहत देने की संभावना है। वहीं निकायों में संपत्ति कर का आधा किए जाने को लेकर भी सरकार ने वायदा किया था। आने वाले बजट में इसे लेकर भी घोषणा की उम्मीद है।

Share it
Top