logo
Breaking

कलेक्टर ने रोकी 22 में से 18 कर्मचारियों की वेतन वृद्धी, एक को किया बर्खास्त See List

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में आदर्श आचार संहिता और चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में सरगुजा कलेक्टर सारांश मित्तर ने 22 कर्मचारियों पर दंडात्मक कार्यवाही करते हुए 18 कर्मचारियों की वेतन वृद्धी रोकने के साथ एक बर्खास्त करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

कलेक्टर ने रोकी 22 में से 18 कर्मचारियों की वेतन वृद्धी, एक को किया बर्खास्त See List

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में आदर्श आचार संहिता और चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में सरगुजा कलेक्टर सारांश मित्तर ने 22 कर्मचारियों पर दंडात्मक कार्यवाही करते हुए 18 कर्मचारियों की वेतन वृद्धी रोकने के साथ एक बर्खास्त करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

No automatic alt text available.

No automatic alt text available.
बता दें इसके पहले कलेक्टर ने सभी नोटिस जारी कर सफाई देने का मौका दिया था। लेकिन किसी से भी संतोषपद जवाब नहीं ​मिलने के कारण 22 कर्मचारियों पर तत्काल कार्यवाही करते हुए निर्देश जारी कर दिए। इनमें से संविदा में सहायक प्राध्यापक के तौर पर कार्यरत हर्षिता त्रिपाठी को उसके पद से बर्खास्त कर दिया। बताया जा रहा है हर्षिता ने मतगणना वाले दिन अपने फेसबुक वॉल पर भाजपा प्रत्याशी को उसकी जीत पर बधाई दी थी।
Share it
Top