logo
Breaking

तेंदूफल खाकर खुश हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह और कूप बनाने की दी मंजूरी, अब खेत नहीं रहते प्यासे

बिलासपुर में लोक सुराज अभियान के दौरान प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने ग्रामीण महिलाओं को मनरेगा के तहत कूप निर्माण की सौगात क्या दी, उनकी तो पूरी जिंदगी ही बदल गई।

तेंदूफल खाकर खुश हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह और कूप बनाने की दी मंजूरी, अब खेत नहीं रहते प्यासे

बिलासपुर में लोक सुराज अभियान के दौरान प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने ग्रामीण महिलाओं को मनरेगा के तहत कूप निर्माण की सौगात क्या दी, उनकी तो पूरी जिंदगी ही बदल गई। इस योजना के तहत गौरेला ब्लाक के दर्जनभर ग्रामीण खेती करते हुए सब्जियों की अच्छी पैदावार प्राप्त कर रहे हैं। इसके सहारे उनकी आर्थिक स्थिति सदृढ़ हो गई है ।

महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना ग्रामीणों अौर मजदूर वर्ग के लोगों के लिए एक तरह से वरदान साबित हो रही है। इस योजना से गौरेला क्षेत्र की महिलाओं और उनके पूरे परिवार की जिंदगी बदल दी। मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह 2017-18 में लोक सुराज अभियान के दौरान ग्राम गौरखेड़ा पहुंचे थे।
ग्रामीणों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री डा. सिंह गांव के विकास के बारे में जानकारी ले रहे थे। इसी दौरान गांव की ही महिला श्रीमती उर्मिला पति सुकलाल ने मुख्यमंत्री को भेंट स्वरूप तेंदूफल खाने के लिए दिया। मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने उसे चाव से खाया और खुश होकर उर्मिला सहित 12 हितग्राहियों को मनरेगा के तहत कूप स्वीकृत किया।

उर्मिला अब अपने खेतों में सिंचाई कर ले रहीं बेहतर पैदावार

महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के तहत ग्राम पंचायत ठेंगाडांड के ग्राम गौरखेड़ा निवासी उर्मिला पति सुकलाल को कूप निर्माण हुआ है तभी से उसकी जिंदगी में बदलाव शुरू हो गए हैं। वर्तमान में श्रीमती उर्मिला अपने खेतों में सिंचाई कर फसल की अच्छी पैदावार प्राप्त कर रहीं हैं। साथ ही कूप के आसपास लगभग 30 डिसमिल जमीन पर टमाटर, फूलगोभी, पत्ता गोभी, बैंगन, सेम इत्यादी सब्जियों ले रहीं हैं। इस विक्रय कर श्रीमती उर्मिला को आर्थिक लाभ भी प्राप्त हो रहा है।

कूप योजना से 12 अन्य हितग्राही भी लाभांवित

वर्तमान में उर्मिला के खेत में कूप निर्माण हो जाने के कारण पर्याप्त सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो गई है। इस कारण उनकी फसल की पैदावर तो बेहतर हुई ही है आसपास के भूजल स्तर में भी लगातार वृध्दि हो रही है। उर्मिला ने बताया कि उनके साथ 12 अन्य हितग्राहियों को भी मनरेगा के तहत कूप स्वीकृत किया गया था। सभी खुश हैं और आर्थिक स्थित से मजबूत हो रहे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण मनरेगा योजना ही है। इस योजना को सभी ने सराहा।

मिल रहा लाभ

इस संबंध में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती फरिहा आलम सिद्दीकी ने बताया कि मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने 2017-18 में लोक सुराज अभियान के दौरान उर्मिला सहित 12 हितग्राहियों को मनरेगा के तहत कूप स्वीकृत किया था। योजना का लाभ लेते हुए, अपनी मेहनत से सभी की स्थिति बेहतर हो रही है।
Share it
Top