logo
Breaking

मीसाबंदियों के पेंशन को बंद करने पर होगा विचार: भूपेश बघेल

प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल अपने बस्तर प्रवास के दौरान आज कोंडागांव पहुंचे। यहां पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया

मीसाबंदियों के पेंशन को बंद करने पर होगा विचार: भूपेश बघेल
प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल अपने बस्तर प्रवास के दौरान आज कोंडागांव पहुंचे। यहां पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। वहीं, मरार समाज के लोगों ने उन्हें हरी सब्जियों से तौला। विधायक मोहन मरकाम ने गौर मुकुट पहनाकर मुख्यमंत्री का किया स्वागत। इस दौरान उन्होंने एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। वहीं, मीडिया से रूबरू होकर उन्होंने मीसाबंदियों को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कह कि मध्य प्रदेश की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी मीसाबंदियों को मिलने वाले पेंशन को बंद करने पर विचार किया जाएगा।
सीएम भूपेश बघेल ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि कोंडागांव के इसी मंच से राहुल गांधी जी ने घोषणा की थी और आप सभी बस्तर के जनता ने विस्वास किया। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनाने में सफल रहे। सरकार बनने के 10 दिन के भीतर ही किसानों का 9 करोड़ कोंडागांव पहुँच चुका है। लगातार किसानों के हक में हम फैसला ले रहे हैे। टाटा समूह से जमीन छुड़ा कर किसानों को वापस हो रही है। कोंडागांव के विधायक के मांग पर सभी नाले में स्टाप डेम पर काम होगा और किसान को वर्षभर पानी उपलब्ध होगा। मवेशियों के लिए गौठान बना कर जानवरो को संरक्षित करेंगे गांव में दारू की नही दूध की नदियां बहनी चाहिए। आदिवासियों भाई बहनों के आर्थिक स्थिति सुधारने पर काम करेंगे। आदिवासी जिस मकान में रहते हैं, उन्हें उनको मालिकाना हक दिलाने पर भी काम किया जाएगा। कोंडागांव को एजुकेशन सिटी बनाने पर काम किया जाएगा। बेहतर बस्तर का निर्माण की जिम्मेदारी अब मेरी है।
सीएम भूपेश की सभा में मौजूद मंत्री कवासी लखमा ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि बस्तर की जनता ने किसान के बेटे को प्रदेश का मुख्यमंत्री चुना है। अब आम आदमी आदिवासी किसान के साथ अन्याय नहीं होगा। नागपुर से चलने वाली झूटी सरकार को जनता ने नकार दिया है। चांवन वाले बाबा, दारू वाले बाबा बन कर चले गए। अब किसान का बेटा जमीन में चलने वाला हमारे कांग्रेस का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आ गए हैं। बस्तर में हेलीकाप्टर में उड़ने वाले को जनता ने नकारा है। अब नए छत्तीसगढ़ का निर्माण पूरी ईमानदारी से होगा।
Share it
Top