logo
Breaking

छत्तीसगढ/ मुख्यमंत्री बघेल बोले- किसी गरीब की नहीं तोड़ी जाएगी झोपड़ी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का राजधानी रायपुर के पुजारी पार्क में मकर संक्रांति के अवसर पर तिल के लड्डुओं से तौलकर अभिनंदन किया गया। मुख्यमंत्री ने जनता को मकर संक्रांति की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए सभी के लिए मंगलकामनाएं की।

छत्तीसगढ/ मुख्यमंत्री बघेल बोले- किसी गरीब की नहीं तोड़ी जाएगी झोपड़ी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का राजधानी रायपुर के पुजारी पार्क में मकर संक्रांति के अवसर पर तिल के लड्डुओं से तौलकर अभिनंदन किया गया। मुख्यमंत्री ने जनता को मकर संक्रांति की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए सभी के लिए मंगलकामनाएं की।

बघेल ने लोगों को अपने हाथ से लड्डू खिलाकर उनका मुंह मीठा कराया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवं श्रममंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक सत्यनारायण शर्मा, बृहस्पत सिंह और अनिता शर्मा को भी सम्मानित किया गया।

मुख्यमंत्री ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि किसी गरीब की झोपड़ी नहीं तोड़ी जाएगी। उन्होंने बीरगांव नगर पालिका क्षेत्र में शुद्ध पेयजल व्यवस्था करने और शासकीय महाविद्यालय के लिए भूमि आवंटित कराने का आश्वासन देते हुए कहा कि इन कार्याें के लिए आज ही कलेक्टर रायपुर को निर्देश दिए जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सभी वर्गोें के हितों में तेजी से फैसले ले रही है। किसानों की कर्जमाफी की गई है और 2500 रुपए प्रति क्विंटल की दर पर धान खरीदी का फैसला किया गया है। हिंदुस्तान में छत्तीसगढ़ के अलावा कोई दूसरा राज्य 2500 रुपए प्रति क्विंटल की दर पर धान खरीदी नहीं कर रहा।
उन्होंने कहा कि जन घोषणापत्र में किए गए सभी वादों को राज्य सरकार पूरा करेगी। संपत्ति कर और बिजली का बिल भी हाफ किया जाएगा। इसमें कुछ समय लग सकता है। उन्होंने नागरिकों से सम्पत्ति कर और बिजली बिल पटाने की अपील की।
शराबबंदी होगी, एकदम से नहीं
बघेल ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में शराबबंदी लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है, शराबबंदी होगी, लेकिन एकदम से नहीं। शराब एक सामाजिक बुराई है। शराबबंदी के लिए समाज को भी सामने आना होगा। लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है।
उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में शराबबंदी की गई है, वहां अध्ययन दल भेजे जाएंगे। समाज के सभी वर्गाें से इस संबंध में राय ली जाएगी। श्री बघेल ने कहा कि झीरम घटना और नॉन घोटाले की जांच एसआईटी से कराने का निर्णय लिया गया।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पांच डिसमिल से छोटे प्लाटों की रजिस्ट्री प्रारंभ करा दी गई है।
दर्ज मामले वापस लेने का फैसला
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने चिटफंड कंपनियों के एजेंटों पर दर्ज मामले वापस लेने का फैसला किया है। गरीबों की गाढ़ी कमायी लूटने वालों से निवेशकों के पैसे वापस कराये जाएंगे। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया ने कहा कि यह छत्तीसगढ़ियों की सरकार है। राज्य सरकार प्रदेश का चहुमुंखी विकास करेगी। उन्होंने भी जनता को मकर संक्रांति की बधाई और शुभकामनाएं दी।
विधायक सत्यनारायण शर्मा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों का कर्ज माफ कर इतिहास रचा है। इस अवसर पर नगर निगम रायपुर और बिरगांव के पार्षद, अनेक जनप्रतिनिधि और नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।
Share it
Top