Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़ : महिला ने 3 बच्चियों को दिया एक साथ जन्म, पेट से जुड़े 2 बच्चियों का होगा ऑपरेशन

राजनांदगांव में सामने आया यह पहला मामला, तीनों बच्चियां डॉक्टरों की देखरेख में स्वस्थ

छत्तीसगढ़ : महिला ने 3 बच्चियों को दिया एक साथ जन्म, पेट से जुड़े 2 बच्चियों का होगा ऑपरेशन
X

राजनांदगांव. शहर स्थित पारख नर्सिंग होम में एक महिला द्वारा तीन बच्चियों के जन्म दिया गया है। इसमें दो बच्चियां का शरीर आपस में जुडा हैं। दोनोे बच्चे का हाथ और पैर तो अलग-अलग है, लेकिन पेट से दोनो के जोडे होने के मामले सामने आने से डाक्टर भी हैरान है। प्रसव के बाद तीन बच्चियां फिलहाल स्वस्थ है। इसमे दो बच्चियों का आपरेशन कर इन्हे अलग किया जाएगा।

पारख नर्सिंग होम में 17 मई की रात्रि 11 बजे महिला ने तीनों बच्चियों को जन्म दिया। तीनों ही बच्चियां स्वस्थ है और पारख नर्सिंग होम के पीडियाट्रिक आईसीयू में चिकित्सकों की निगरानी में हैं। पारख नर्सिंग होम के संचालक एवं नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मोहन पारख तथा सर्जन डॉ आदित्य पारख ने बताया कि अंबागढ़ चौकी निवासी हेमंत साहू की धर्मपत्नी यामिनी साहू गत 16 अप्रैल को पारख नर्सिंग होम में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पदमा पारख एवं डॉक्टर रंजीता पारख को दिखाने पहुंची। यह महिला 34 हफ्ते के गर्भ में थी। डॉक्टर ने सोनोग्राफी की सलाह दी तो वह विधि डायग्नोस्टिक में पहुंची। जिसे सोनोग्राफी किए जाने की सलाह दी गई।

सोनाग्राफी से खुलासा

विधि डाग्नोस्टिक के डॉक्टर अमित मोदी ने सोनोग्राफी की तब पता चला कि महिला के पेट में 3 शिशु हैं। जिसमें से 2 जुड़े हुए हैं और एक अलग है। उन्होने बताया कि ऐसे डिलीवरी का मामला पचास हजार मामलों में से एक ही आता है। राजनांदगांव में संभवत यह पहला मामला हैं।

डाक्टरों की निगरानी में महिला

सोनाग्राफी रिपोर्ट सामने आने के बाद डाक्टरों ने महिला को अपने देखरेख में लिया। महिला का प्रतिदिन चेकअप किया गया। गत 17 मई को यह महिला पारख नर्सिंग होम में रात्रि 10 बजे भर्ती हुई। डॉक्टर पदमा पारख एवं रंजीता पारख ने तत्काल रात्रि 11 बजे उसका सिजेरियन ऑपरेशन किया। काफी चुनौतीपूर्ण इस आपरेशन से तीन बच्चियों को जन्म हो सका। इसमें एक बच्ची का वजन 1.5 किलोग्राम है, तो दोनों जुडी बच्चियों का वजन 3.7 किलोग्राम है।

Next Story