logo
Breaking

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए छत्तीसगढ़ से साढे़ सात करोड़ रूपए का चावल रवाना, तीन मंत्रियों ने दिखाई हरी झंडी

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की घोषणा के अनुरूप आज शाम राजधानी रायपुर से केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए 2500 मीटरिक टन (25 हजार क्विंटल) चावल का एक रैक त्रिवेन्द्रम के लिए रवाना किया गया।

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए छत्तीसगढ़ से साढे़ सात करोड़ रूपए का चावल रवाना, तीन मंत्रियों ने दिखाई हरी झंडी

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की घोषणा के अनुरूप आज शाम राजधानी रायपुर से केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए 2500 मीटरिक टन (25 हजार क्विंटल) चावल का एक रैक त्रिवेन्द्रम के लिए रवाना किया गया। छत्त्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा भेजे जा रहे इस चावल की कीमत सात करोड़ 50 लाख रूपए है।

छत्तीसगढ़ सरकार के खाद्य मंत्री पुन्नूलाल मोहले, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय और कृषि एवं जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कापा स्थित एफसीआई परिसर में संयुक्त रूप से हरी झण्डी दिखाकर चावल के रैक को केरल के लिए रवाना किया। ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह ने केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन से कल टेलीफोन पर चर्चा के बाद वहां के बाढ़ पीड़ितों के लिए 10 करोड़ रूपए की सहायता की घोषणा की थी।

उन्होंने कहा था कि बाढ़ पीड़ितों के लिए साढ़े सात करोड़ रूपए का चावल भेजा जाएगा और शेष राशि नगद दी जाएगी। इसी कड़ी में आज चावल का रैक केरल भेजा गया। इस अवसर खाद्य मंत्री पुन्नूलाल मोहले ने कहा कि केरल में भारी बारिश के कारण बाढ़ से काफी नुकसान हुआ है। छत्तीसगढ़वासी वहां के लोगों के इस दुख में सहभागी है, और मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह के निर्देश पर वहां के लोगों की मदद के लिए यह चावल भेजा जा रहा है।

राजस्व व आपदा प्रबंधन मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने कहा कि हमारे देश की यह संस्कृति है कि मुसीबत के समय एक-दूसरे की मदद करते हंै। छत्तीसगढ़ सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ इस आपदा की स्थिति में केरल के साथ है। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि केरल में सामग्री के रूप चावल भेजने वाले छत्तीसगढ़ अग्रणी राज्यों में शामिल है।

Share it
Top