logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार: खेत में मवेशियों को चराने से रोका तो महिला ने जला दिया जिंदा, इलाज के दौरान किशोरी की मौत

जिले के खड़गवां थाना क्षेत्र के सलका ग्राम में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। गांव की एक महिला ने अपने दादा-दादी के पास रहने वाली एक 17 वर्षीय किशोरी को मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया। घटना की वजह केवल मवेशी चराने का मामूली सी बात थी।

छत्तीसगढ़ समाचार: खेत में मवेशियों को चराने से रोका तो महिला ने जला दिया जिंदा, इलाज के दौरान किशोरी की मौत

रविकांत सिंह राजपूत, कोरिया। जिले के खड़गवां थाना क्षेत्र के सलका ग्राम में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। गांव की एक महिला ने अपने दादा-दादी के पास रहने वाली एक 17 वर्षीय किशोरी को मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया। घटना की वजह केवल मवेशी चराने का मामूली सी बात थी।

खंडगवा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सलका खड़गवां थाना क्षेत्र के ग्राम सलका की गायत्री पिता भगवान सिंह 17 वर्ष अपने दादा बजरंग सिंह के यहां ग्राम जरौंधा खड़गवां में रहती थी। 4 जनवरी को इनका विवाद पड़ोस में रहने वाली एक महिला हिरमनिया बाई से खेत में मवेशियों को चराने को लेकर हुआ था।

किशोरी की नजर खेत में चरते मवेशियों पर पड़ी थी और दादा को इसकी जानकारी देने के बाद उन्हें भगाने गई थी। इसी बीच महिला खेत की ओर पहुंच गई, उसने किशोरी को मवेशियों को भगाते देखा और इसी बात को लेकर विवाद करने लगी।

पंचायत ने सुनाया था हर्जाना देने का फैसला

मवेशी चराने के विवाद का मामला पंचायत तक पहुंचा। पंचायत की बैठक में दोनों पक्षों की बातों को सुना गया और पंचों ने महिला को दोषी करार देने के साथ सजा बतौर मवेशियों द्वारा खाई गई फसल का हर्जाना देने का फरमान सुनाया। इसके बाद से महिला, किशोरी और उसके दादा-दादी से नाराज रहती थी। 8 जनवरी को जब किशोरी के दादा मंडी में धान देने गए थे। इसी बीच पड़ोसी महिला हिरमनिया पहुंची और उसके दादा-दादी के बारे में पूछा। किशोरी ने इनके घर में नहीं होने की जानकारी दी। पेट में दर्द होने से वह रसोइघर के पास वाले कमरे में सो रही थी। इसका फायदा उठाकर वह किशोरी पर केरोसिन डालकर आग लगा दी।

इलाज के दौरान हुई मौत

आग से जल रही किशोरी की चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोस के लोगों की भीड़ जमा हो गई। उसे इलाज के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचाया गया, जहां से उसे अंबिकापुर के निजी अस्पताल में रेफर कर दिया गया था। शुक्रवार रात उपचार दौरान रात 10.45 बजे उसकी मौत हो गई। अस्पताल से मिली सूचना पर गांधीनगर थाना पुलिस ने किशोरी के शव का पोस्टमार्टम कराया है। इधर घटना की जानकारी मिलने पर कोरिया पुलिस के द्वारा महिला के विरुद्घ मामला दर्ज किया है।

घटना के बाद से आरोपी महिला फरार

किशोरी को जलाने के बाद से महिला फरार है। खडगवां पुलिस का कहना है कि आरोपी महिला के घर में पुलिस गई तो वह वहां नहीं था। खडगवां पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Share it
Top