Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मंडप एक, पति एक और दुल्हन दो...जानिए क्या है पूरा मामला

जशपुर जिले के बगीचा जनपद पंचायत का बगडोल गांव एक बार फिर से सुर्खियों में है। इस बार यहां एक दूल्हे ने दो दुल्हन के साथ एक मंडप में शादी रचाई है। जी हां आपको जानकर हैरानी होगी मंडप एक, दूल्हा एक और दुल्हन दो... आखिर क्या है पूरा माजरा..? जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर।

मंडप एक, पति एक और दुल्हन दो...जानिए क्या है पूरा मामला

जशपुर जिले के बगीचा जनपद पंचायत का बगडोल गांव एक बार फिर से सुर्खियों में है। इस बार यहां एक दूल्हे ने दो दुल्हन के साथ एक मंडप में शादी रचाई है। जी हां आपको जानकर हैरानी होगी मंडप एक, दूल्हा एक और दुल्हन दो... आखिर क्या है पूरा माजरा..? जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर।

कहते हैं जोड़ियां ऊपर से बन के आती हैं और यहां ऐसी जोड़ी बनी जिसे देखकर आप भी दंग रह जाएंगे। जशपुर के बगीचा से सटे बगडोल गांव में सीआरपीएफ के जवान अनिल पैंकरा ने दो दुल्हनों के साथ एक ही मंडप में शादी की रस्म अदा की और जन्मों जनम के बंधन में बंध गए।

वाकई प्यार का बंधन समाज के बंधनों से परे होता है। जिसे न कानून का डर होता है न लोक लाज का भय। दरअसल अनिल ने लगभग 4 साल पहले अपनी पहली पत्नी को बिना देखे उसके मांग में सिंदूर भरकर सामाजिक रीति रिवाज से शादी की थी। इसके बाद दुल्हन बगडोल गांव में ही अपने पति अनिल के साथ रहने लगी। पहली पत्नी के बच्चे नहीं हैं। वहीं अनिल के परिवार में कोई उसका वारिस नहीं है। इसे देखते हुए पारिवारिक रजामंदी से अनिल ने दूसरी शादी की।

सीआरपीएफ के जवान अनिल को गांव की एक अन्य युवती सीमा से प्रेम था जिससे शादी की बात तय की गई। अनिल ने अपने प्रेम संबंध के बारे में अपनी पत्नी व परिवार से बात की नतीज़तन उसकी पत्नी, प्रेमिका सीमा के साथ अनिल की शादी के लिए तैयार हो गई। तीनों परिवारों के बीच बैठकों का दौर चला और यह तय किया गया कि अनिल की फिर से शादी की जाएगी और इस बार दुल्हन एक नहीं बल्कि दो होगीं।

पारिवारिक रजामंदी के बाद सामाजिक रीति रिवाज के साथ एक ही मंडप में अनिल ने दोनों से शादी की। पहली पत्नी और उसकी प्रेमिका दोनों को दुल्हन बनाकर बैठाया गया और अनिल ने अग्नि को साक्षी मानकर दोनों को जीवनसाथी के रूप में स्वीकार किया। इस अनोखी शादी को लेकर आम लोगों में चर्चा का माहौल बना हुआ है।

आपको बता दें कि भारतीय कानून के अनुसार कोई भी शादीशुदा हिन्दू लड़का पहली पत्नी को बिना तलाक दिए दूसरी शादी नहीं कर सकता। दो दुल्हन के साथ शादी करने वाला अनिल पैंकरा सीआरपीएफ का जवान है फिलहाल उसकी पोस्टिंग बनारस इलाके में हैं। छुट्टियों में वह अपने घर बगडोल आया हुआ है। पारिवारिक वंश बढ़ाने के लिए उसने 18 मई को दूसरी शादी की है। हांलाकि एक मंडप में एक दूल्हे से दो दुल्हन की इस शादी की चर्चा खूब हो रही है। कोई इसे अमर प्रेम की संज्ञा दे रहे हैं तो कोई इसे विधि विरुद्ध बता रहे हैं।

Loading...
Share it
Top