logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार : दिव्यांग महिला से खो गई ट्राई साइकिल की चाबी, पैरों में कपड़ा बांधकर घिसटते हुए पहुंची मुख्यालय, नहीं मिली नई चाबी...

नक्सल गढ़ माने जाने वाले बयानार जंगल की दिव्यांग महिला सुमिला सोरी को सात दिनों पहले चार्जिंग से चलने वाला ट्राई साइकिल समाज कल्याण विभाग द्वारा दिया गया था।

छत्तीसगढ़ समाचार : दिव्यांग महिला से खो गई ट्राई साइकिल की चाबी, पैरों में कपड़ा बांधकर घिसटते हुए पहुंची मुख्यालय, नहीं मिली नई चाबी...

कोंडागांव. नक्सल गढ़ माने जाने वाले बयानार जंगल की दिव्यांग महिला सुमिला सोरी को सात दिनों पहले चार्जिंग से चलने वाला ट्राई साइकिल समाज कल्याण विभाग द्वारा दिया गया था। जिसकी चाबी उस विकलांग महिला द्वारा कहीँ गुम हो गई। तो वह जिला मुख्यालय में आकर समाज कल्याण विभाग में दूसरी चाबी की मांग करने व मदद की गुहार लगाने पर विभाग के जिम्मेदार कर्मचारियों द्वारा यह कह कर वापस भेज दिया गया कि बार-बार चाबी हम कहाँ से देंगे तुम अपनी ट्राई साइकिल को यहाँ ले कर आओ फिर देखेते हैं.

दिव्यांग महिला शहर में घुटनों के बल घिसटते हुऐ शहर के चौराहे पर बैठ कर रोती रही। उस विकलांग महिला ने मीडिया को अपने स्थानीय भाषा हल्बी में बताया कि वह बयानार गांव में रहती है उसके ट्राई साइकिल का चाबी गुम हो गया है टेक्सी कमांडर गाड़ी में बैठ कर जिला मुख्यालय तक आई हूँ. समाज कल्याण ऑफिस में जा कर मैने अपनी समस्या बताई मगर उन लोगो ने कुछ भी मदद करने से मना कर दिया और ट्राई साइकिल को यहाँ लाने को कहा। मैं चल नही सकती मेरी कोई मदद नही कर रहा है इस लिए वापस गांव जा रही हुँ।
वहीँ समाज कल्याण विभाग में कोई भी जिम्मेदार अधिकारी नही मिला एक महिला कर्मचारी से इस सम्बंध में पुछे जाने पर उन्होंने कहा कि उस महिला को हमारे विभाग द्वारा तीसरी बार ट्राई साइकिल दिया गया है पहले भी जो ट्राई साइकिल दिया गया था वो खराब होने के कारण अभी इन्हें नया ट्राईसाइकिल दिया गया है. जिसका चाबी उस महिला ने गुमा दिया है. जब तक वह ट्राई साइकिल हमारे ऑफिस तक लाएगी नहीं तो हम कुछ नही कर सकते।
Share it
Top