Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सियाराम कौशिक बोले- जोगी-भाजपा की सांठगांठ छत्तीसगढ़ में भाजपा को ले डूबी

बिल्हा के पूर्व विधायक सियाराम कौशिक ने जहां पहले ही जेसीसीजे छोड़ने के संकेत दिए हैं। वहीं, दूसरी ओर उन्होंने जेसीसीजे चीफ अजीत जोगी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

सियाराम कौशिक बोले- जोगी-भाजपा की सांठगांठ छत्तीसगढ़ में भाजपा को ले डूबी
X

संदीप करिहार, बिलासपुर: छत्तीसगढ़ में राजनीति का पारा ठण्ड के जाते – जाते एक बार फिर गर्म हो चुका है। यही कारण है कि प्रदेश की सियासत अपने पुरे सबाब की उबाल पर नज़र आ रही है। दरअसल हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में तीसरे मोर्चे के रूप में अस्तिस्त्व में आई जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) यानि कि अजित जोगी की पार्टी में सियासत की नाराजगी छलकते हुए बाहर आने लगी है। जिसके चलते जोगी कांग्रेस से पराजित विधानसभा के उम्मीदवार अब अजित जोगी की पार्टी का दामन छोड़कर अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी में शामिल होने को लेकर जद्दोजहद में लगे हुए हैं। इसी के मद्देनज़र छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रभारी पीएल पुनिया से जोगी पार्टी के कट्टर समर्थकों ने दिल्ली में 3 जनवरी को सौजन्य मुलाक़ात की है। जिस पर कांग्रेस प्रवेश को लेकर पीएल पुनिया ने हाथ आगे बढ़ाते हुए हरी झंडी का संकेत दिया है। फिलहाल जोगी कांग्रेस से कांग्रेस में वापसी को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सहमती पर विराम लगा हुआ है। लेकिन देखना होगा कि इस यू-टर्न पर कांग्रेस का अंतिम फैसला क्या होता है, या अजित जोगी व् बसपा गठबंधन को कितना नुकसान लोकसभा चुनाव में उठाना पड़ता है। ये तो आने वाला वक्त ही तय करेगा।

बता दें कि, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के बिल्हा से प्रत्याशी और अजित जोगी के कट्टर समर्थक सियाराम कौशिक ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि, अजित जोगी कि पार्टी से अब लोगो की ममता और प्रेम ख़त्म हो चुकी है। जब पार्टी एक नई विकल्प के रूप में सामने आई तो लगा की छत्तीसगढ़ियों की हितैषी पार्टी है, लेकिन अजित जोगी के गतिविधियों और उनके 16 नवम्बर के बयान से ये साफ हो गया कि उनकी संलिप्तता भारतीय जनता पार्टी से है। प्रदेश के जकांछ प्रत्याशियों का अनुभव है कि उनकी हार का कारण अजीत जोगी ही है। इसलिए सभी ने जोगी जोगी की पार्टी को अलविदा कहकर अखिल भारती कांग्रेस पार्टी में शामिल होने का फैसला लिया है। अजित जोगी के व्यवहार से ख़ासतौर पर बिल्हा प्रत्याशी सियाराम कौशिक, तखतपुर प्रत्याशी संतोष कौशिक, बिलासपुर प्रत्याशी बृजेश साहू, मुंगेली प्रत्याशी चन्द्रभान बारमते और भाटापारा प्रत्याशी चैतुराम साहू सहित अन्य प्रभावित हुए है।

बिल्हा के पूर्व विधायक सियाराम कौशिक ने कहा कि- कांग्रेस पार्टी के विचारधारा में चलकर अंतिम पंती के लोगो को विकास के मुख्यधारा में लाना है। मैं जनता जोगी कांग्रेस पार्टी के नेताओं से अपील करता हूँ कि वे जोगी कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़कर देश की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस में शामिल हो जाएं। ताकी देश स भारतीय जनता पार्टी को उखाड़ फेंके और राहुल गांधी को देश का अगला प्रधानमंत्री बनाकर सुरक्षित हाथों में सौंप सकें। इसी दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की तारीफ करते हुए कहा कि, देश मे भूपेश जैसे यशस्वी मुख्यमंत्री नहीं हो सकते, उन्होंने किसानों को जो राहत दी है उसकी जितनो तारीफ की जाए शायद कम है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story