Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिजली कटौती की अफवाह फैलाने के आरोप में राजद्रोह का केस दर्ज, बीजेपी ने जताया विरोध

बिजली कटौती की अफवाह फैलाने के आरोप में राजनांदगांव जिले के मुसरा डोंगरगढ़ निवासी मांगेलाल अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया। उनके खिलाफ आईपीसी के तहत राजद्रोह की धारा 124 ए और सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार की धारा 505/1/2 के तहत कार्रवाई की गई।

बिजली कटौती की अफवाह फैलाने के आरोप में राजद्रोह का केस दर्ज, बीजेपी ने जताया विरोध

रायपुर। बिजली कटौती की अफवाह फैलाने के आरोप में राजनांदगांव जिले के मुसरा डोंगरगढ़ निवासी मांगेलाल अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया। उनके खिलाफ आईपीसी के तहत राजद्रोह की धारा 124 ए और सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार की धारा 505/1/2 के तहत कार्रवाई की गई है। अग्रवाल कोसोशल मीडिया में वायरल एक वीडियो के आधार पर हिरासत में लिया गया है।

क्या है वीडियो में - वायरल वीडियो में मांगेलाल अग्रवाल कह रहे हैं- एक इंवर्टर कंपनी के साथ छत्तीसगढ़ सरकार की सेटिंग हो गई है। इसके लिए राज्य सरकार को पैसा दिया गया है। करार के मुताबिक घंटे-2 घंटे में 10 से 15 मिनट के लिए लाईट कटौती होती रहेगी, तो इन्वर्टर बिक्री बढ़ेगी।

वहीं इस मामले में हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सीके केशरवानी ने कहा है कि ये फैसला अलोकतांत्रिक है। हर व्यक्ति को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार है। उन्होंने कहा कि सरकार का यह निर्णय संविधान की मूल भावना के खिलाफ है।

बीजेपी ने किया विरोध - भाजपा ने सरकार के इस कार्रवाई का विरोध किया है। पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा है कि ये फैसला आपातकाल की ओर बढ़ता कदम है, जो कांग्रेस के खून में है। हम इसका विरोध करेंगे। हम लोगों के लिए लड़ेंगे, जेल जाना पड़ा तो जाएंगे।

Share it
Top