logo
Breaking

पत्रकार से मारपीट करने वाले राजीव अग्रवाल समेत 3 BJP नेता चढ़े पुलिस के हत्थे, थाने में तनाव

भाजपा कार्यालय में पत्रकार से हाथापाई मामले में शनिवार की शाम भाजपा कार्यालय में जमकर विवाद हुआ। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर पत्रकार जहां भाजपा दफ्तर में धरने पर बैठ गए, वहीं विवाद बढ़ता देख भाजपा कार्यालय को खाली छोड़ सभी बड़े नेता वहाँ से खिसक गये।

पत्रकार से मारपीट करने वाले राजीव अग्रवाल समेत 3 BJP नेता चढ़े पुलिस के हत्थे, थाने में तनाव

रायपुर: भाजपा कार्यालय में पत्रकार से हाथापाई मामले में शनिवार की शाम भाजपा कार्यालय में जमकर विवाद हुआ। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर पत्रकार जहां भाजपा दफ्तर में धरने पर बैठ गए, वहीं विवाद बढ़ता देख भाजपा कार्यालय को खाली छोड़ सभी बड़े नेता वहाँ से खिसक गये। ये विवाद उस वक़्त शुरू हुआ था, जब भाजपा नेताओं की आपस में ही भिड़ंत चल रही थी। हार की समीक्षा के दौरान आपस में ही भिड़े पूर्व विधायक नंदे साहू और बीजेपी जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल की तस्वीर लेने के दौरान पत्रकार सुमन पांडेय से भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने हाथापाई की, जिसके बाद बीजेपी और पत्रकारों में विवाद शुरू हो गया। पत्रकारों ने इस मामले में मौदहापारा थाने में जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल समेत 3 नेताओं पर FIR दर्ज कराया है। पत्रकार इस मामले में तीनों आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। लेकिन तत्काल गिरफ्तारी ना होते देख पत्रकार नाराज़ हो गए।

इधर इस मामले ने तुरंत ही सियासी तूल भी पकड़ लिया। खुद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मामले में ट्वीट किया। भूपेश ने ट्वीट कर लिखा कि...
वहीं अमित जोगी ने पत्रकार पर हुए हमले को लेकर ट्वीट कर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। अमित जोगी ने ट्वीट कर लिखा है कि...
इधर नाराज़ पत्रकारों ने देर शाम गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से भी मुलाकात की। और तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। ताम्रध्वज साहू ने रायपुर SP को इस बात का निर्देश दिया है कि तुरन्त आरोपियों की गिरफ्तारी की जाए। इस आदेश के बाद कभी भी आरोपियों की गिरफ्तारी हो सकती है।
Share it
Top