logo
Breaking

अब दुबई में भी उठा सकेंगे छत्तीसगढ़ी व्यंजन बरी, बिजौरी और मुनगा साग का मजा

छत्तीसगढ़ का पारंपरिक भोजन अगर सात समंदर पार सयुंक्त अरब अमीरात के दुबई में खाने को मिल जाय तो बात ही कुछ और होगी।

अब दुबई में भी उठा सकेंगे छत्तीसगढ़ी व्यंजन बरी, बिजौरी और मुनगा साग का मजा

रायपुर। छत्तीसगढ़ का पारंपरिक भोजन अगर सात समंदर पार सयुंक्त अरब अमीरात के दुबई में खाने को मिल जाय तो बात ही कुछ और होगी। जी हां अखिल भारतीय छत्तीसगढ़ी महासभा छत्तीसगढ़ से आने वाले सैलानियों को यहां भी छत्तीसगढ़ी स्वाद देने के लिए बरी, बिजौरी, मुनगा के साग का जायका उपलब्ध कराने जा रही है।

प्रदेश के सामाजिक कार्यकर्ता रितेश साहू और डॉ. सौरभ निर्वाणी ने बताया कि बर दुबई के क्षेत्र में जहां से दुनिया की सबसे ऊंची इमारत और दुबई फ्रेम देखने के लिए लाखों सैलानी छत्तीसगढ़ से आते हैं। इसमें छत्तीसगढ़ की परम्परारिक भोजन का स्वाद राज्य के लोग उठा पाएंगे।
डॉ निर्वाणी ने कहा कि लाइसेंसिंग की पूरी प्रक्रिया लगभग पूर्ण हो चुकी है, अब प्रदेश के लोगों को छत्तीसगढ़ के परंपरागत भोजन का स्वाद लेने के लिए इंतजार नही करना होगा। इस छत्तीसगढ़ी आउटलेट को अबू धाबी, शारजाह और दुबई, तीन स्थानों खोला जा रहा है, यह पूर्णतः गैर व्यावसायिक संस्थान होगा जिसका उद्देश्य छत्तीसगढ़ के खान पान और संस्क़ृति का प्रचार प्रसार दुनिया भर के शैलानी देशों में करना है।
इन संस्थान का संचालन अखिल भारतीय छत्तीसगढ़ी महासभा के सदस्यों द्वारा किया जा रहा है। डॉ निर्वाणी ने दावा किया है कि जिस दुबई में 70 रुपये का पानी मिलता है वहीं हम भरपेट छत्तीसगढ़ी भोजन राज्य के लोगों के लिए उपलब्ध कराएंगे।
अखिल भारतीय छत्तीसगढ़ी महासभा के संस्थापक सदस्य रितेश साहू ने छत्तीसगढ़ के पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू से भी राज्य के द्वारा संभव मदद संस्थान को करने के लिए मदद मांगी है।
Share it
Top