logo
Breaking

निगम मंडल की आस लगाकर बैठे नेताओं की उम्मीदों पर फिर सकता है पानी

आज भूपेश सरकार ने एक और बड़ा बदलाव किया है।

निगम मंडल की आस लगाकर बैठे नेताओं की उम्मीदों पर फिर सकता है पानी

रायपुर: प्रदेश की कमान संभालने के बाद सीएम भूपेश बघेल ने जैसे जनता के हित में बड़े फैसले लिए हैं। वहीं, दूसरी ओर छत्तीसगढ़ के विभागों में भी कई बड़े बदलाव किए हैं। इसी कड़ी में आज भूपेश सरकार ने एक और बड़ा बदलाव किया है। सरकार ने निगमों, मण्डलों, प्राधिकरणों, समितियों, परिषदों और अन्य संबंधित संस्थाओं के अध्यक्ष पद का दारोमदार संबंधित विभागीय मंत्रियों को सौंप दिया है। भूपेश सरकार के इस फैसले के बाद निश्चित तौर पर निगम मंडल के अध्यक्ष पद की आस लगाकर बैठे नेताओं की उम्मीदों पर पानी फिर सकता है। बता दें इससे पहले विभाग के सचिव ही अध्यक्ष होते ​थे।

सामान्य प्रशासन विभाग ने शुक्रवार को आदेश जारी करते हुए कहा है कि समस्त निगम, मण्डलों, प्राधिकरणों में पूर्व के मनोनयन को निरस्त करते हुए संबंधित विभाग के भारसाधक सचिव को अध्यक्ष का दायित्व सौंपा गया था। लेकिन आज अब भारसाधक सचिव के स्थान पर संबंधित विभाग के भारसाधक मंत्री संबंधित निगम, मण्डल, प्राधिकरण और अन्य संबंधित संस्थाओं के अध्यक्ष होंगे।

Share it
Top