logo
Breaking

महिला अफसर से कारोबारी बताकर पहले रचाई शादी, फिर लाखों ठगकर फरार, डेढ़ साल पहले मेट्रोमोनियल साइट पर हुई थी मुलाकात

राजेंद्रनगर में आंगनबाड़री सुपरवाइजरसे शादी रचाकर साढ़े 6 लाख रुपए समेट कर जालसाज फरार हो गया है। साल 2018 में आरोपी जीवनसाथी डॉट काम वेबसाइट के जरिए महिला के संपर्क में आया और आर्य समाज मंदिर में शादी कर किराए के मकान में 4 महीने साथ रहा।

महिला अफसर से कारोबारी बताकर पहले रचाई शादी, फिर लाखों ठगकर फरार, डेढ़ साल पहले मेट्रोमोनियल साइट पर हुई थी मुलाकात

रायपुर। राजेंद्रनगर में आंगनबाड़ी सुपरवाइजर से शादी रचाकर साढ़े 6 लाख रुपए समेट कर जालसाज फरार हो गया है। साल 2018 में आरोपी जीवनसाथी डॉट काम वेबसाइट के जरिए महिला के संपर्क में आया और आर्य समाज मंदिर में शादी कर किराए के मकान में 4 महीने साथ रहा।

इस दौरान आरोपी ने मां की बीमारी का इलाज कराने और कारोबार करने के नाम पर 6 लाख 50 हजार रुपए ले लिए थे। चार महीने तक तलाश करने के बाद भी उसका पता नहीं चला। इसक बाद महिला ने राजेंद्र नगर थाने में शिकायत की। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज यिका है।

पुलिस का कहना है, बिलासपुर निवासी महिला पाली कटघोरा में आंगनबाड़ी सपुरवाइजर है। आरोपी गुजरात क अहमदाबाद निवासी ईलेश दोशी नाम बताकर शादी किया था और पेैसे ठग लिया। उसके सभी दस्तावेज जांच में फर्जी पाए गए हैं। हालांकि अब सोशल मीडिया के अकाउंट के जरिए उसकी तलाश की जा रही है।

होटल कारोबारी बताकर रचाई शादी

पुलिस के मुताबिक बिलासपुर निवासी 45 वर्षीय महिला ने जीवनसाथी डॉट काम में शादी के लिए वर तलाशने रजिस्ट्रेशन कराया था। साल 2018 में उसके जरिए आरोपी से महिला की मुलाकात हुई।

इस दौरान आरोपी ने उसे अहमदाबाद के बीरमगांव निवासी ईलेश दोशी नाम से परिचय दिया और होटल कारोबार करना बताया, जिसके बाद आरोपी ने महिला से कई 2018 में राजधानी स्थित आर्य समाज मंदिर में शादी की और शांति रेसीउेंसी स्थित किराए के फ्लैट में महिला के साथ रहने लगा।

इसके महीनेभर बाद मां की बीमारी का बहाना बनाकर महिला से डेढ़ लाख रुपए लिए। अक्टूबर महीने में कारोबार करने के एिल करीब 5 लाख रुपए लेकर गुजरात जाना बताया, लेकिन वापस नहीं लौटा। 3 महीने त​क उसकी तलाश करने के बाद महिला ने पुलिस से शिकायत की।

Share it
Top