logo
Breaking

रेत की अवैध माइनिंग पर सरकार का बड़ा फैसला, खदानों में लगेंगे CCTV, मॉनीटिरिंग के साथ गड़बड़ी की होगी जांच

रेत की अवैध माइनिंग में होने वाली गड़बड़ी को रोकने के लिए भूपेश सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए cctv कैमरे लगाने का निर्णय लिया है। जिससे रेत माफियाओं पर आसानी से नजर रखी जा सके।

रेत की अवैध माइनिंग पर सरकार का बड़ा फैसला, खदानों में लगेंगे CCTV, मॉनीटिरिंग के साथ गड़बड़ी की होगी जांच
अंकिता शर्मा, रायपुर। रेत की अवैध माइनिंग में होने वाली गड़बड़ी को रोकने के लिए भूपेश सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए CCTV कैमरे लगाने का निर्णय लिया है। जिससे रेत माफियाओं पर आसानी से नजर रखी जा सके। रेत के अवैध खनन और परिवहन पर रोक लगाने के लिए अब घाटों में CCTV लगेंगे। छत्तीसगढ़ में रेत के अवैध परिवहन को रोकने के लिए सरकार अब पंचायतों की जगह छत्तीसगढ़ मिनरल डेवलपमेंट कार्पोरेशन (CMDC) की देखरेख में रेत खदानों का संचालन करेगी।
सत्र के दौरान सदन में प्रमोद शर्मा ने रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए सरकार के प्रयासों के लिए मुुख्यमंत्री का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, सरकार को ऐसे प्रावधान करने चाहिये, कि पंचायतों का हित बरकरार रहे। जिसके बाद JCCJ के विधायक धर्मजीत सिंह ने खदानों के लिए गैंगवार होने की आशंका जाहिर की।
उन्होंने कहा, रेत माफिया छत्तीसगढ़ में काफी पावरफुल हैं। जैसे ही पंचायत से सीएमडीसी के हाथों में रेत उत्खनन की जिम्मेदारी दी गयी है, वो अपने-अपने घाट छांटकर रख लिये हैं। इन पर लगाम लगाने के लिए सरकार को प्रयास करना चाहिये। वहीं धनेंद्र साहू ने कहा कि खदानों में सेमी मेकेनाइज के काम से मशीन से खुदाई की जा रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मॉनीटिरिंग की जाएगी और गड़बड़ी की जांच की जाएगी।
Share it
Top