Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ADJ स्मिता रत्नावत के खिलाफ चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से खोला मोर्चा, ठप रहा लोक अदालत का काम काज

एडीजे स्मिता रत्नावत के खिलाफ चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को न्यायलय के सामने ही जमीन पर बैठकर न्यायाधीश के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिसके बाद आज दिन भर काम नहीं हो सका।

ADJ स्मिता रत्नावत के खिलाफ चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से खोला मोर्चा, ठप रहा लोक अदालत का काम काजFourth class employees organized collectively against ADJ Smita Ratnawat

दुर्ग। एडीजे स्मिता रत्नावत के खिलाफ चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को न्यायलय के सामने ही जमीन पर बैठकर न्यायाधीश के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिसके बाद आज दिन भर काम नहीं हो सका। लोक अदालत का काम प्रभावित रहा। कई पक्षकार अदालत के गलियारों मे भटक रहे हैं जिन्हें राह बताने वाला कोई नहीं है।चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से दुर्ग सिटी कोतवाली में ADJ के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवाई है। चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि न्यायलय में ड्यूटी के बाद और पहले न्यायाधीश के बंगलों पर भी उनके निजी कार्यों को कराया जाता है जिसे बंद करना चाहिए। नेशनल लोक अदालत का भी चतुर्थ वर्ग कर्मचारी संघ ने बहिष्कार किये जाने की बात कही है।

क्या है मामला - दरअसल जिला न्यायलय में 9th ADJ स्मिता रत्नावत ने अपने भृत्य सदानंद यादव को अपने बंगले में भी ड्यूटी जाने का निर्देश दिया था, जिसे उसने इनकार कर दिया। जिसके बाद एडीजे ने कोर्ट के भीतर ही 4 घंटो तक एक स्थान में खड़े रहने की सजा सुनाई। जिसे मानकर भृत्य खड़ा रहा। कुछ घंटे बाद उसे चक्कर आने लगा और वो जमीन पर गिर गया। उसके मुंह से झाग निकलने लगा।

Share it
Top