logo
Breaking

दो महीने में 6वीं बार छत्तीसगढ़ सरकार ने लिया कर्ज, रमन सिंह ने कसा तंज, कहा - कर्जा लो और घी पियो

छत्तीसगढ़ सरकार ने मंगलवार को फिर साढ़े सात सौ करोड़ रुपये का कर्ज लिया है। दो महीने में यह छठवां मौका है, जब सरकार ने अपनी प्रतिभूति (सिक्योरिटी बांड) बेची है। इससे राज्य पर कर्ज का बोझ बढ़कर 58 हजार करोड़ के पार पहुंच गया है। सरकार अपने इस छोटे कार्यकाल में अब तक सात हजार करोड़ से अधिक का बांड बेच चुकी है। सरकार के कर्ज लेने पर बीजेपी ने जमकर पलटवार किया है।

दो महीने में 6वीं बार छत्तीसगढ़ सरकार ने लिया कर्ज, रमन सिंह ने कसा तंज, कहा - कर्जा लो और घी पियो

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने मंगलवार को फिर साढ़े सात सौ करोड़ रुपये का कर्ज लिया है। दो महीने में यह छठवां मौका है, जब सरकार ने अपनी प्रतिभूति (सिक्योरिटी बांड) बेची है। इससे राज्य पर कर्ज का बोझ बढ़कर 58 हजार करोड़ के पार पहुंच गया है। सरकार अपने इस छोटे कार्यकाल में अब तक सात हजार करोड़ से अधिक का बांड बेच चुकी है। सरकार के कर्ज लेने पर बीजेपी ने जमकर पलटवार किया है।

पूर्व सीएम रमन सिंह ट्वीट कर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। रमन सिंह ने लिखा है " "कर्जा लो और घी पियो" कुछ ऐसी ही नीति पर चलते हुए कांग्रेस ने पिछले 2 महीनों में छठवीं बार रिज़र्व बैंक से कर्ज लिया है। मुख्यमंत्री जी इतने कर्ज का बोझ अंततः जनता को ही झेलना पड़ेगा। शासन की यह नीति न ही जनहित में है और न ही राज्यहित में है।

आपको बता दें कि सरकार ने राज्य के किसानों से कृषि ऋण माफ करने का वादा किया था। इसके तहत अब तक सरकार 10 हजार करोड़ रुपये का अल्पकालीन कृषि ऋण माफ कर चुकी है। इसमें ग्रामीण और सहकारी बैंकों का 62 सौ करोड़ तथा व्यवसायिक बैंकों का चार हजार 17 करोड़ रुपये शामिल है।

Share it
Top