logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार : CBI की नो एंट्री पर पूर्व CM रमन सिंह का बयान- डरी हुई है प्रदेश सरकार, CM भूपेश ने कहा- हम संघीय ढांचे में करते हैं काम

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस नेतृत्व वाली नई सरकार ने गुरुवार को राज्य में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की एंट्री पर एक तरह से रोक लगा दी है। इस संबंध में गृह विभाग ने केंद्र सरकार को एक पत्र भी जारी कर दिया है। बता दें ऐसा कदम उठाने वाला छत्तीसगढ़ तीसरा राज्य बन गया है। इसके पहले यह कदम आंध्रप्रदेश और पश्चिम बंगाल सरकार उठा चुकी है।

छत्तीसगढ़ समाचार : CBI की नो एंट्री पर पूर्व CM रमन सिंह का बयान- डरी हुई है प्रदेश सरकार, CM भूपेश ने कहा- हम संघीय ढांचे में करते हैं काम

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस नेतृत्व वाली नई सरकार ने गुरुवार को राज्य में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की एंट्री पर एक तरह से रोक लगा दी है। इस संबंध में गृह विभाग ने केंद्र सरकार को एक पत्र भी जारी कर दिया है। बता दें ऐसा कदम उठाने वाला छत्तीसगढ़ तीसरा राज्य बन गया है। इसके पहले यह कदम आंध्रप्रदेश और पश्चिम बंगाल सरकार उठा चुकी है।

CBI एंट्री को लेकर आज पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का यह बयान अपने आप में यह प्रदर्शित करता है कि वो CBI से कितना डरे हुए हैं। CBI की कार्रवाई को कितना खौफ उनके अंदर हैं। मुख्यमंत्री जी के अंदर CBI का इतना खौफ है कि CBI का ख्याल रात हो या दिन आता रहता है। जिसकी वजह से उन्होंने CBI के राज्य आने पर प्रतिबंध लगा दिया है। पूर्व मुचख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार CBI से डरी हुई है।
वहीं भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा था हम एक संघीय ढांचे में काम करते हैं और CBI को जिस तरह से राज्य में आकर काम करने की छूट दी गई थी उससे कानून व्यवस्था पर राज्य के अधिकारों का हनन हो रहा था। इस आदेश से CBI का प्रदेश में आना प्रतिबंधित नहीं हुआ है लेकिन अब किसी भी कार्रवाई से पहले एजेंसी को सरकार से अनुमति लेनी होगी।

हम एक संघीय ढांचे में काम करते हैं और CBI को जिस तरह से राज्य में आकर काम करने की छूट दी गई थी उससे कानून व्यवस्था पर राज्य के अधिकारों का हनन हो रहा था। इस आदेश से CBI का प्रदेश में आना प्रतिबंधित नहीं हुआ है लेकिन अब किसी भी कार्रवाई से पहले एजेंसी को सरकार से अनुमति लेनी होगी।

— Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) January 11, 2019
नेता प्रतिपक्ष व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरम लाल कौशिक की सीबीआई मामले में प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सरकार में परिवर्तन हुए अभी एक महीना भी नहीं हुआ है और सीबीआई को लेकर प्रदेश सरकार ने अनुमति वापस ले ली है। इससे एक राष्ट्रीय पार्टी का चरित्र और आचरण दिखार्ठ नहीं दे रहा। वास्तव में संघीय ढांचे का सम्मान करना चाहिए। कौशिक ने कहा इस तरह का फैसला कहीं न कहीं आत्मविश्वास की कमी को दिखाता है।

गौरतलब है कि गुरुवार को प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि वह केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को राजय में जांच के लिए अब कोई नया प्रकरण नहीं लेने के निर्देश जारी करे। गृह विभाग की तरफ से इस संबंध में मंत्रालय (महानदी भवन) से केंद्रीय कार्मिक, जनशिकायत एवं पेंशन मामलों के मंत्रालय तथा केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा गया है।

Share it
Top