logo
Breaking

Exclusive Interview : राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनने के बाद रमन सिंह के साथ डॉ. हिमांशु द्विवेदी की खास बातचीत

बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनने के बाद रमन सिंह आज हरिभूमि ग्रुप के आईएनएच न्यूज़ के दफ्तर पहुंचे, यहां उन्होंने हरिभूमि ग्रुप के प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ खास बातचीत की, जिसमें उन्होंने डॉ. हिमांशु द्विवेदी के बेबाक सवालों के जवाब दिए। प्रस्तुत है डॉ. रमन सिंह और डॉ. हिमांशु द्विवेदी की खास बातचीत के प्रमुख अंश...

Exclusive Interview : राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनने के बाद रमन सिंह के साथ डॉ. हिमांशु द्विवेदी की खास बातचीत

बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनने के बाद रमन सिंह आज हरिभूमि ग्रुप के आईएनएच न्यूज़ के दफ्तर पहुंचे, यहां उन्होंने हरिभूमि ग्रुप के प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ खास बातचीत की, जिसमें उन्होंने डॉ. हिमांशु द्विवेदी के बेबाक सवालों के जवाब दिए। प्रस्तुत है डॉ. रमन सिंह और डॉ. हिमांशु द्विवेदी की खास बातचीत के प्रमुख अंश...

  • प्रदेश अध्यक्ष को लेकर रमन सिंह ने कहा कि पद या दायित्व के लिए मैंने अपने 35 साल के जीवन में कभी मांग नहीं की। और नहीं इसको लेकर आग्रह किया। संगठन ने जो कुछ मुझे दायित्व दिया है , मैंने उसका पालन किया है। मैं जो कुछ भी वह संगठन और बीजेपी की वजह से हूं। मुझे तो पता भी नहीं था कि मुझे यह जिम्मेदारी दी जाएगी।
  • नेता प्रतिपक्ष के पद को इंकार करने को लेकर रमन सिंह ने कहा कि हमने आपस में मिलकर यह राय लिया। उन्होंने कहा कि अगर संगठन या राष्ट्रीय नेतृत्व कहता तो मैं यह दायित्व भी स्वीकार करता।
  • परिणाम को लेकर रमन सिंह ने कहा कि सबकुछ जानने औऱ तमाम सर्वे का विश्लेषण किया तो यह बात सामने आई कि कांग्रेस का घोषणा पत्र ने कांग्रेस को जिताने में अहम भूमिका निभाई। रमन सिंह ने कहा कि लोकसभा का चुनाव औऱ विधानसभा का चुनाव दोनों अलग अलग विषयों पर लड़ा जाता है। 15 साल से हमारी सरकार रही तो लोगों को लगा होगा कि कुछ परिवर्तन किया जाए। इसलिए लोगों ने कांग्रेस को वोट किया।
  • बोनस को लेकर सिंह ने कहा कि यह कोई बड़ा मुद्दा नहीं था। बड़ा मुद्दा कर्ज माफी का था। कर्ज माफी के मुद्दे पर पार्टी सहमत नहीं थी।
  • वर्तमान सरकार ने कई कार्यों को बंद कर दिया है। कई लोग काम बंद होने से परेशान है।
  • सीएम भूपेश बघेल के सीएम बनाए जाने को लेकर रमन सिंह ने कहा कि यह कांग्रेस का विषय है। इस पर मेरा कॉमेंट करना ठीक नहीं है। इससे बीजेपी को फर्क नहीं पड़ता है कि कांग्रेस किसे सीएम बनाती है। हम इंतजार करेंगे कि सरकार ने किन किन अपने बड़े वादों को निभाया है। रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने सरकार बनने के पहले दिन ही यू टर्न ले लिया है। शराबबंदी को लेकर सरकार ने यू टर्न ले लिया। रमन सिंह ने कहा कि हम निश्चित रुप से सरकार को काम करने का पूरा समय देंगे। लेकिन अभी सरकार की इच्छाशक्ति का पत्ता चल रहा है।
  • बदलापुर के राजनीति को लेकर रमन सिंह ने कहा कि मुझे गुस्सा नहीं आ रहे है। उन्होंने कहा कि आपके कार्य करने का तरीका क्या है, नियत क्या है, यह मायने रखता है। एसआईटी का गठन करना, यह इशारा करता है कि वह किसी को बचाने के लिए की जा रही है।
  • नान घोटाले को लेकर रमन सिंह ने कहा कि नान को लेकर मुझे कोई दिक्कत नहीं है। मुझे अपने फैसलों पर कोई अफसोस नहीं हुआ।
  • रमन सिंह ने कहा कि मेरे कार्यकाल के दौरान चावल की योजना और पीडीएस सिस्टम की योजना बड़ी उपलब्धी रही। अन्य राज्यों के लिए भी यह मिशाल है। आगे हमारी इच्छा नक्सल समस्या को लेकर थी। अगर बस्तर में मैं और अधिक शांति स्थापित कर पाता तो यह सुखद होता।
  • रमन सिंह ने कहा कि जल्द ही प्रदेश अध्यक्ष का निर्णय लिया जाएगा। इसको लेकर हमारी बैठक होगी, उसके बाद हम इस विषय़ पर निर्णय लेंगे।
  • लोकसभा चुनाव को लेकर रमन सिंह ने कहा कि इस चुनाव में राज्य के मुद्दे नहीं होंगे। यह चुनाव मोदी जी के नेतृत्व को लेकर होगा। साल में जो कार्य हुआ है उसको लेकर चुनाव होगा।
  • देश का महौल बीजेपी के साथ है। सरकार ने जो बड़े निर्णय लिए है उसका व्यापक असर देखने को मिलेगा। सरकार ने हाल ही में जो सवर्णों के लिए आरक्षण का प्रावधान किया है, उसका भी असर होगा। सरकार ने गरीबीं के लिए भी बहुत काम किया है। रमन सिंह ने कहा कि देश में मोदी जी जैसा कोई नेता नहीं है। यह चुनाव उनके नाम पर ही होगा।
  • दस प्रतिशत आरक्षण को लेकर रमन सिंह ने कहा कि यह निर्णय अपने आप में ऐतिहासिक है। यह लोगों में नई उम्मीद लेकर आया है। इसको लेकर लोगों में उत्साह है। इसके साथ ही सरकार ने इस व्यवस्था में 10 प्रतिशत अतिरिक्त सीटें बढ़ा दिया। इस फैसले का व्यापक असर देखने को मिलेगा।
  • सभी अध्यक्षों के प्रिय होने के बात को लेकर रमन सिंह ने कहा कि मैं संगठन के निर्णय को मानने वाला एक छोटा सिपाही हूं। मेरे लिए जीवन में कभी व्यक्ति महत्वपूर्ण नहीं रहा। अमित शाह को लेकर रमन सिंह ने कहा कि उनकी और मोदी की जोड़ी ने हमारी पार्टी को विश्व की सबसे बड़े पार्टी बनाने का काम किया है।
  • लोकसभा चुनवा लड़ने को लेकर रमन सिंह ने कहा कि अभी तक मैं विधायक हूं। अभी तक मुझे लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर कुछ नहीं कहा गया है। मेरे बारे में अभी तक संगठन ने कोई निर्णय नहीं हुआ है। मेरे मन में भी इसको लेकर कोई निर्णय नहीं है। मुझे संगठन की तरफ से अन्य राज्यों में भी जाने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।
  • राफेल को लेकर रमन ने कहा कि इसकी सच्चाई देश के सामने आ गई है। इसको लेकर प्रायोजित तरीके से झूठ बोला जा रहा है। मोदी के बारे में सपने में भी इस तरह के आरोपों के बारे में नहीं सोचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि अगर इस मुद्दे में सच्चाई है तो प्रमाण के साथ कोर्ट जाना चाहिए। बिना किसी प्रमाण को लेकर जनता के बीच राजनीतिक कारणों से इस प्रचारित किया जा रहा है।

Share it
Top