logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार : DU की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और JNU की प्रोफेसर अर्चना प्रसाद से हटा हत्या का आरोप, सुकमा पुलिस को नहीं मिला सबूत

दिल्ली यूनिवर्सिटी की प्रोफ़ेसर नंदिनी सुंदर और जेएनयू की प्रोफ़ेसर अर्चना प्रसाद को सुकमा पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है. नंदिनी और अर्चना को क्लीन चिट मिलते ही नंदिनी ने एक मीडिया को दिए बयान में कहा कि अब फर्जी केसों में फंसे आदिवासियों को भी अब रिहा किया जाएगा.

छत्तीसगढ़ समाचार : DU की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और JNU की प्रोफेसर अर्चना प्रसाद से हटा हत्या का आरोप, सुकमा पुलिस को नहीं मिला सबूत

रायपुर. दिल्ली यूनिवर्सिटी की प्रोफ़ेसर नंदिनी सुंदर और जेएनयू की प्रोफ़ेसर अर्चना प्रसाद को सुकमा पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है. नंदिनी और अर्चना को क्लीन चिट मिलते ही नंदिनी ने एक मीडिया को दिए बयान में कहा कि फर्जी केसों में फंसे आदिवासियों को भी अब रिहा किया जाएगा. बता दें कि सुकमा के तोंगपाल थाने में दर्ज हत्या के एक मामले में चालान में दोनों का नाम था. जांच के दौरान सबूत नहीं मिलने पर पुलिस ने नंदिनी सुंदर और अर्चना प्रसाद को की क्लीन चीट दे दी है.

देखिये वीडियो...

बता दें कि 4 नवंबर 2016 को तोंगपाल थाने में हत्या का एक मामला दर्ज हुआ था. नामापारा गांव के सोमनाथ की हत्या अज्ञात माओवादियों ने की थी. इसी मामले में प्रो. नंदिनी सुंदर और प्रो. अर्चना प्रसाद का नाम भी आरोपियों में शामिल किया गया था. सुकमा एसपी जितेन्द्र शुक्ला ने बताया कि जांच के दौरान दोनों के खिलाफ सबूत नहीं मिले हैं. इसलिए उनका नाम चालान से हटा दिया गया है, लेकिन मामले में अभी चालान पेश नहीं किया गया है.
Share it
Top