logo
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019 छत्तीसगढ़ : आज होगी एक और सूची जारी, राहुल की अध्यक्षता में सीईसी की बैठक के लिए पहुंचे 20 राज्यों के नेता

शनिवार को राहुल गांधी की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की बैठक तय है। बैठक में पहले चरण के 20 राज्यों के 91 सीटों के प्रत्याशियों पर गहन विमर्श होना है। संबंधित राज्यों के प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और विधायक दल के नेता सहित प्रभारी सचिवों को भी बैठक में शिरकत करने कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यालय से सूचना दी गई है।

लोकसभा चुनाव 2019 छत्तीसगढ़ : आज होगी एक और सूची जारी, राहुल की अध्यक्षता में सीईसी की बैठक के लिए पहुंचे 20 राज्यों के नेता

शनिवार को राहुल गांधी की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की बैठक तय है। बैठक में पहले चरण के 20 राज्यों के 91 सीटों के प्रत्याशियों पर गहन विमर्श होना है। संबंधित राज्यों के प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और विधायक दल के नेता सहित प्रभारी सचिवों को भी बैठक में शिरकत करने कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यालय से सूचना दी गई है।

प्रभारी सचिवों को सीईसी में बिठाने का सिलसिला राहुल गांधी ने छग, मप्र और राजस्थान विस चुनाव के टिकट बंटवारे पर फैसला करते हुए शुरू किया था। वे दूसरी पंक्ति के नेताओं को तैयार करने के लिए इस सिलसिले को आगे बढाएंगे। आम चुनाव में प्रत्याशी तय करने में प्रभारी महासचिवों के साथ सचिवों की भी सहभागिता रहेगी।

उम्मीद है कि बैठक के बाद देर रात अधिकांश राज्यों के प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जाए। किसी सीट पर विवाद हुआ या अन्य किसी कारण से किसी प्रत्याशी का नाम फंसता है तो ऐसी सूरत में भी मामले को जल्द निपटाकर नामों का ऐलान करना आलाकमान की प्राथिमकताओं में इस बार शुमार है।

मप्र की 29 लोकसभा सीटों पर चौथे, पांचवे, छठे और सातवें चरण में चुनाव होने हैं इसीलिए माना जा रहा है कि जिन सीटों पर सिंगल नाम प्रदेश छानबीन समिति और स्क्रीनिंग कमेटी से आए हैं वैसी सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जाए।

छत्तीसगढ़ की सभी सीटों पर प्रत्याशियों के नाम तय

छत्तीसगढ़ की 11 सीटों में से केवल नक्सल प्रभावित बस्तर में ही पहले चरण में चुनाव होने हैं, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सभी 11 सीटों पर प्रत्याशियों का नाम शनिवार को ही तय कर लिया जाएगा। हो सकता है कि केवल बस्तर के लिए प्रत्याशी की घोषणा की जाए या ये भी हो सकता है कि छग की सभी सीटों की घोषणा कर दी जाए। बैठक के लिए मप्र, छग, राजस्थान और पंजाब के मुख्यमंत्री दिल्ली पहुंच गए हैं। पहले चरण के चुनाव के लिए 18 मार्च से नामांकन किया जाना है।

Share it
Top