logo
Breaking

छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी समाज के सम्मेलन में शामिल हुए मुख्यमंत्री, कहा - पुरखों के सपनों को साकार करेगी राज्य सरकार

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम दतान (प) में आयोजित मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 73 वें सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे पुरखों ने राज्य के विकास के लिए जो सपना देखा था, उसे साकार करने के लिए राज्य सरकार वचनबद्ध है और इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही है।

छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी समाज के सम्मेलन में शामिल हुए मुख्यमंत्री, कहा - पुरखों के सपनों को साकार करेगी राज्य सरकार

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम दतान (प) में आयोजित मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 73 वें सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे पुरखों ने राज्य के विकास के लिए जो सपना देखा था, उसे साकार करने के लिए राज्य सरकार वचनबद्ध है और इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ को कुदरत ने बड़ी फुरसत से गढ़ा है। इस धरती के नीचे खनिज और ऊपर वन सम्पदाओं की भरमार है। उन्होंने कहा कि राज्य की एक-एक सम्पदा का उपयोग राज्य के लोगों की तरक्की और बेहतरी के लिए किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर आदर्श सामूहिक विवाह में दाम्पत्य सूत्र में बंधे नए वर-वधुओं को आशीर्वाद प्रदान किया। उन्होंने समाज की ओर से प्रतिभावान छात्र-छात्राओं, समाजसेवियों, दानदाताओं सहित विभिन्न क्षेत्रों में समाज का नाम रौशन करने वाली विभूतियों का सम्मान भी किया। बघेल ने कहा कि हमारी 75 प्रतिशत आबादी गांवों में बसती है। इसलिए बजट का बड़ा हिस्सा हमने गांवो और किसानों की उन्नति में लगाया है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था को हमने फिर से पटरी पर लाने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की चार चिन्हारी- नरवा, गरवा, घुरवा और बारी के समन्वित विकास के लिए हमने काम शुरू कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि गांव में अब हर खेत को घेरने की जरूरत नहीं होगी। हम हर एक गांव में दैहान और गौठान बनाएंगे। इसमें गांव के सभी मवेशियों को रखेंगे। उनके लिए चारा-पानी का इंतजाम भी होगा। यही नहीं बल्कि इन्हें चराने वाले लोगों के विकास भी हमें करना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमे उन्नत नस्ल के पशुओं को बढ़ावा देंगे। जिससे हमे ज्यादा मात्रा में दूध मिलेगा और आमदनी बढ़ेगी

Share it
Top