logo
Breaking

संत रविदास जयंती कल, सीएम बघेल ने दी प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं, कहा - सामाजिक समरसता का उनका संदेश आज भी प्रासंगिक है

कल संत रविदास की 642 वीं जयंती है। इसको लेकर प्रदेशभर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। सीएम भूपेश बघेल ने लोगों को रविदास जयंती की शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि संत रविदास ने तत्कालीन समाज में सामाजिक भेेद-भाव की बुराई से मुक्ति के लिए परस्पर मेल-जोल और भाई चारा को बढ़ावा देने की आवश्यकता बताई।

संत रविदास जयंती कल, सीएम बघेल ने दी प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं, कहा - सामाजिक समरसता का उनका संदेश आज भी प्रासंगिक है

रायपुर। कल संत रविदास की 642 वीं जयंती है। इसको लेकर प्रदेशभर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। सीएम भूपेश बघेल ने लोगों को रविदास जयंती की शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि संत रविदास ने तत्कालीन समाज में सामाजिक भेेद-भाव की बुराई से मुक्ति के लिए परस्पर मेल-जोल और भाई चारा को बढ़ावा देने की आवश्यकता बताई। सामाजिक समरसता का उनका संदेश आज भी प्रासंगिक है।

राज्यपाल ने भी दी बधाई : राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने संत रविदास की जयंती पर देश-प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा है कि वे महान संत, समाज सुधारक थे। उनके जीवन से समाज को प्रेम-भाव और सद्मार्ग में चलने की प्रेरणा मिलती है।

कौन थे संत रविदास - गुरु रविदास को रैदास भी कहा जाता है। उन्‍हें महान संत, दार्शनिक, कवि, समाज सुधारक और भक्‍त के तौर पर जाना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार माघ माह की पूर्णिमा के दिन गुरु रविदास जयंती मनाई जाती है।

मीरा के गुरु - ऐसा कहा जाता है कि संत रविदास ही मीरा के गुरु थे। मीराबाई उनसे काफी प्रेरित थीं। कई कहानियों में उल्‍लेख मिलता है कि उन्‍होंने कई बार मीरा की जान बचाई. साथ ही उन्‍हें भक्‍त‍ि का ज्ञान भी दिया।

Share it
Top