logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार: किसानों ने तोड़ा पिछले पांच सालों का रिकार्ड, बेचा 10 हजार से भी अधिक मीट्रिक टन धान

भूपेश सरकार द्वारा किसानों का कर्ज माफ करने के बाद बस्तर संभाग में इस बार बम्पर धान खरीदी हुई है। किसानों ने पिछले पांच सालों का रिकार्ड तोड़ते हुए लक्ष्य से करीब 10 हजार मीट्रिक टन अधिक धान बेचा है।

छत्तीसगढ़ समाचार: किसानों ने तोड़ा पिछले पांच सालों का रिकार्ड, बेचा 10 हजार से भी अधिक मीट्रिक टन धान
विकास तिवारी, जगदलपुर। भूपेश सरकार द्वारा किसानों का कर्ज माफ करने के बाद बस्तर संभाग में इस बार बम्पर धान खरीदी हुई है। किसानों ने पिछले पांच सालों का रिकार्ड तोड़ते हुए लक्ष्य से करीब 10 हजार मीट्रिक टन अधिक धान बेचा है।
इतना ही नही पिछले कुछ सालों से अपना कर्ज नहीं चुका पाने वाले किसान भी इस बार अपना धान उपार्जन केन्द्रों तक लेकर पंहुचे। नतीजा यह रहा कि बस्तर संभाग मे लक्ष्य से अधिक धान खरीदी की गई है।
दरअसल राहुल गांधी ने बस्तर से ही ऐलान किया था कि यदि उनकी सरकार बनती है तो दस दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ किया जायेगा और उनके धान 2500 रू. क्विंटल के हिसाब से खरीदे जायेंगे। हुआ भी वैसा ही सरकार बदली और वादा निभाते हुए कर्ज माफी के साथ 2500 रू. में धान खरीदी की गई।
विपणन अधिकारी के मुताबिक बस्तर संभाग के सातों जिलों के 259 खरीदी केन्द्रोें से इस बार 5 लाख 17 हजार मीट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य रखा गया था और इस लक्ष्य को सप्ताह भर पहले ही पूरा कर लिया गया।
जिसके बाद गुरुवार को धान खरीदी के अंतिम दिन तक 10 हजार मीट्रिक टन धान अधिक खऱीदा गया। इसमें 2 लाख 49 हजार मीट्रिक धान का उठाव हो चुका है। वहीं 2 लाख 72 हजार धान का उठाव उपार्जन केन्द्रों से किया जाना है।
विपणन अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष हुए धान खरीदी का यह रिकार्ड पिछले पांच सालों की तुलना में सबसे अधिक है, बस्तर के किसानों ने बढ़चढ़कर धान बेचा। हांलाकि इस वर्ष धान खरीदी के दौरान लापरवाही बरतने वाले 5 खरीदी प्रभारियों पर कार्रवाई करने के साथ कई बिचौलियो पर भी कार्रवाई की गई है।
Share it
Top