logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार : पुनिया के घर शिव का जोरदार शक्ति प्रदर्शन, पत्नी के लिए मांगा जांजगीर चांपा से टिकट

छत्तीसगढ़ लोकसभा सीटों पर अपनों के लिये जोर आजमाइश कर रहे नेता जी के क्रम में एक और नेता का नाम जुड़ गया। कसडोल और बिलाईगढ़ से लगातार विधायक रहे सूबे के बघेल सरकार में नगर निकास मंत्री शिव डहरिया ने अपनी पत्नी को जांजगीर-चांपा सुरक्षित सीट से सशक्त दावेदार बताया है।

छत्तीसगढ़ समाचार : पुनिया के घर शिव का जोरदार शक्ति प्रदर्शन, पत्नी के लिए मांगा जांजगीर चांपा से टिकट

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ लोकसभा सीटों पर अपनों के लिये जोर आजमाइश कर रहे नेता जी के क्रम में एक और नेता का नाम जुड़ गया। कसडोल और बिलाईगढ़ से लगातार विधायक रहे सूबे के बघेल सरकार में नगर निकास मंत्री शिव डहरिया ने अपनी पत्नी को जांजगीर-चांपा सुरक्षित सीट से सशक्त दावेदार बताया है।

प्रभारी पीएल पुनिया के दिल्ली स्थित आवास पर शिव डहरिया कुछ विधायकों और समर्थकों के साथ पत्नी सकुन डहरिया के लिए बुधवार को जबरदस्त लॉबिंग की। शिव डहरिया प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष भी हैं पुनिया से बातचीत में उन्होंने जांजगीर चांपा संसदयी क्षेत्र की बारीकियों से अवगत कराते हुए कहा कि पार्टी को अगर सभी 11 संसदीय सीटों पर विजय हासिल करनी है तो सकुन डहरिया को शिव डहरिया पत्नी होने के कारण नहीं वर्षों से पार्टी की आम कार्यकर्ता के नाते काम करती आई।

अनुसूचति जाति की मजबूत महिला उम्मीदवार के रूप में आलाकमान टिकट से नवाजे। उन्होंने दो टूक कहा, टिकट मिला तो जीते की गारंटी मेरी। हरिभूमि से बातचीत में शिव डहरिया ने बताया कि मैं पत्नी के लॉबिंग करने लिए नहीं अपने नेता के पास एक सशक्त दावेदार की दावेदारी जताने गया था।

उन्होंने बताया कि विधानसभा के सभी चुनावों में मेरे लिये सभी सियासी कामकाज वे ही पर्दे के पीछे संभालती रही हैं। आलाकमान चाहे तोउनकी जीत की संभावनाओं का पता भी लगा ले। इस संबंध में प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आपकी बताचीत हुई? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, बिल्कुल तभी प्रदेश चुनाव समि​ति ने सकुन डहरिया का नाम केंद्रीय समिति को अनुशंसित भी किया है।

अपनों की लंबी होती कतार

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद कार्यकर्ताओं और नेतााओं में जबरदस्त जोश रायपुर से लेकर दिल्ली तक देखने को मिल रहा है। आचार संहिता लगने के कारण नियमों के तहत छग भवन और सदन में विधायकों, मंत्रियों के सियासी टूर के ​लिये कमरे मिलने बंद कर दिये गये हैं।

उसके बाद भी दिल्ली में प्रत्याशियों की कतार लगातार बढ़ रही है। उम्मीदवारों में नेताओं के अपनों की कतार में अब तक विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत की पत्नी ज्योत्सना महंत कोरबा से, विधायक अमितेश शुक्ला के पुत्र भवानी शंकर शुक्ला महासमुंद से, मंत्री ताम्रध्वज साहू के पुत्र भवानी शंकर शुक्ला महासमुंद से, मंत्री ताम्रध्वज साहू के पुत्र जितेंद्र साहू दुर्ग से, पूर्व विधायक देहु​ति कर्मा अपने पुत्र छविंद्र कर्मा के लिये बस्तर से टिकट की आस लगाये हैं। इस फेहरस्ति में अब शिव डहरिया की पत्नी सकुन डहरिया का नाम भी जुड़ गया।

ये भी हैं दावेदार

जांजगीर से पद्या मनहर, गुरु खुशवंत दास, राईस किंग खुंटे और ज्योति नारंग अब तक रेस में आगे पीछे होते रहे हैं।

Share it
Top