logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार: अंतागढ़ टेप कांड मामले में गठित SIT और FIR के खिलाफ बिलासपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर, सोमवार को होगी सुनवाई

अंतागढ़ टेप कांड मामले में गठित एसआईटी और एफआईआर के खिलाफ बिलासपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। बता दें कि अंतागढ़ टेप कांड मामले में SIT का गठन करने और रायपुर के पंडरी थाने में एफआईआर दर्ज करने के खिलाफ डॉ पुनीत गुप्ता ने हाई कोर्ट में दो याचिकाएं प्रस्तुत की हैं।

छत्तीसगढ़ समाचार: अंतागढ़ टेप कांड मामले में गठित SIT और FIR के खिलाफ बिलासपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर, सोमवार को होगी सुनवाई

रायपुर। अंतागढ़ टेप कांड मामले में गठित एसआईटी और एफआईआर के खिलाफ बिलासपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। बता दें कि अंतागढ़ टेप कांड मामले में SIT का गठन करने और रायपुर के पंडरी थाने में एफआईआर दर्ज करने के खिलाफ डॉ पुनीत गुप्ता ने हाई कोर्ट में दो याचिकाएं प्रस्तुत की हैं। इस मामले में जांच के लिए सरकार ने जहां एसआईटी का गठन किया है, वहीं रायपुर की पूर्व मेयर किरणमयी नायक के पंडरी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले में मंतुराम पवार पहले ही याचिका लगा चुके हैं। दोनों की याचिकाओं पर सोमवार को सुनवाई होगी।

क्या था अंतागढ़ टेपकांड मामला : साल 2014 में अंतागढ़ के तत्कालीन विधायक विक्रम उसेंडी ने लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद इस्तीफा दिया था। वहां हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने पूर्व विधायक मंतू राम पवार को प्रत्याशी बनाया था। भाजपा से भोजराम नाग खड़े हुए थे। लेकिन नाम वापसी के अंतिम वक्त पर मंतूराम ने अपना नामांकन वापस ले लिया था।बाद में फिरोज सिद्दीकी नाम से एक व्यक्ति का फोन कॉल वायरल हुआ था।

Share it
Top