logo
Breaking

भाजपा के ट्वीट पर भूपेश का पलटवार, कहा- इनकी सोच पर मुझे तरस आता है...जाने क्या है पूरा मामला

छत्तीसगढ़ भाजपा के ट्वीट पर पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि ''''जब उनके प्रिय अधिकारी कल्लूरी को पदस्थ किया तो भी बदलापुर कह रहे थे...अगर अधिकारियों के ट्रांसफर को सजा मानते हैं...तो इनकी सोच पर मुझे तरस आता है''''।

भाजपा के ट्वीट पर भूपेश का पलटवार, कहा- इनकी सोच पर मुझे तरस आता है...जाने क्या है पूरा मामला
गौरव शर्मा, रायपुर। छत्तीसगढ़ भाजपा के ट्वीट पर पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि 'जब उनके प्रिय अधिकारी कल्लूरी को पदस्थ किया तो भी बदलापुर कह रहे थे...अधिकारियों का ट्रांसफर करनाा कोई सजा है क्या?...इसे वो सजा मानते हैं बदलापुर मानते हैं तो इनकी दिमागी हालात पर मैं तरस खाता हूं, बघेल ने यह बयान छत्तीसगढ़ अभिकर्ता एवं उपभोक्ता संघ के सम्मान समारोह में दिया है.
बता दें आज सुबह छत्तीसगढ़ भाजपा ने मंगलवार को हुए 21 निरीक्षकों के तबादले को 'बदलापुर नरेश का एक और कारनामा!' का नाम देते हुए ट्वीट किया था। जिसमें कहा था 'बदलापुर नरेश का एक और कारनामा!... अब सीडीकांड की जांच कर रहे निरीक्षकों पर भी गिरायी गाज़...पहले डर कर सीबीआई को प्रदेश से बैन कर दिया अब @bhupeshbaghel बाबा सीडीकांड की जांच में लगे पुलिस वालों को भी हटाने में लगे हैं।...इतना डर किस बात का है भई!'
No photo description available.
उसी का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पलटवार करते हुए कहा कि 'जब उनके प्रिय अधिकारी कल्लूरी को पदस्थ किया तो भी बदलापुर कह रहे थे...अगर अधिकारियों के ट्रांसफर को सजा मानते हैं...तो इनकी सोच पर मुझे तरस आता है'।
गौरतलब है पुलिस मुख्यालय से मंगलवार देर शाम 21 टीआई के तबादले आदेश जारी किए गए हैं। बता दें, जारी आदेश में सईद अख्तर को बालोद से बेमेतरा भेजा गया है, वहीं राजेश कुमार झा को राजनांदगांव से दुर्ग भेजा गया है, जबकि प्रभु प्रकाश लकड़ा को बिलासपुर से मुंगेली भेजा गया है। मोती लाल शर्मा को बिलासपुर से जांजगीर भेजा गया है। डीजीपी डीएम अवस्थी ने यह आदेश जारी किया है।
Share it
Top