logo
Breaking

छत्तीसगढ़ में पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट "आयुष्मान भारत योजना" पर फुल स्टॉप लगाएगी भूपेश सरकार

सरकार पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट आयुष्मान भारत पर फुल स्टॉप लगाने की तैयारी में है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने साफ कहा कि वे इस योजना के पक्ष में नहीं हैं।

छत्तीसगढ़ में पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट "आयुष्मान भारत योजना" पर फुल स्टॉप लगाएगी भूपेश सरकार

रायपुर: छत्तीसगढ़ की सत्ता में आने के बाद भूपेश सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं, जिसका लाभ प्रदेश जनता को मिल रहा है। इसी बड़ी में अब सरकार छत्तीसगढ़ में एक और नया बदलाव करने की ओर अग्रसर है। सरकार पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट आयुष्मान भारत योजना पर फुल स्टॉप लगाने की तैयारी में है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने साफ कहा कि वे इस योजना के पक्ष में नहीं हैं, सरकार आयुष्मान भारत योजना की जगह पर यूनिवर्सल हेल्थकेयर स्कीम लाएगी। इसके लिए सरकार ने काम भी शुरू कर दिया है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया कि पहले चरण में दवाएं और जांच निशुल्क होगी, दूसरे चरण में ऑपरेशन को भी शामिल किया जाएगा। योजना को लेकर बजट के लिए मंत्री स्तरीय चर्चा में विस्तृत बातचीत होगी, जिसके बाद 2019-20 के बजट में इसे लाने की हमारी कोशिश होगी।
आगामी बजट में नई योजना पर मंथन के बाद इसे मूर्त रुप देने की तैयारी हो रही है, आयुष्मान योजना में ऐसी खामी है कि लोगों को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा है। प्रदेश में राइट टू हेल्थ योजना लाना सभी लोगों के लिए बेहतर होगा।
छत्तीसगढ़ के जांगला से हुई थी आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत
आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत पीएम नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के वनांचल में बसे गांव जांगला से 16 सितंबर 2018 को की थी। इस योजना का लाभ प्रदेश 40 लाख परिवारों को मिल रहा है, वहीं मुख्यमंत्री स्वास्थ्य योजना का लाभ 25 लाख परिवारों को मिल रहा है। आयुष्मान भारत योजना के तहत लोगों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज प्रदान किया जाता है। इस योजना के तहत 608 सरकार और 464 निजी अस्पतालों में उपचार की सुविधा प्रदान की गई है।
Share it
Top