logo

नक्सलियों के मांद में घुसकर जवानों ने ध्वस्त किया नक्सली स्मारक

बस्तर आईजी पुलिस विवेकानंद सिन्हा, डीआईजी टीआर पैकरा और पुलिस अधीक्षक कन्हैयालाल ध्रुव के नेतृत्व में कांकेर जिले में नक्सल विरोधी अभियान के तहत सुरक्षा बलों ने पानीडोबीर गांव में नक्सलियों द्वारा अपने मारे गए साथियों की याद में बनाए गए लकड़ी के दस फीट ऊंचे स्मारक को जलाकर राख कर दिया है।

नक्सलियों के मांद में घुसकर जवानों ने ध्वस्त किया नक्सली स्मारक

अंकुर तिवारी, कांकेर: बस्तर आईजी पुलिस विवेकानंद सिन्हा, डीआईजी टीआर पैकरा और पुलिस अधीक्षक कन्हैयालाल ध्रुव के नेतृत्व में कांकेर जिले में नक्सल विरोधी अभियान के तहत सुरक्षा बलों ने पानीडोबीर गांव में नक्सलियों द्वारा अपने मारे गए साथियों की याद में बनाए गए लकड़ी के दस फीट ऊंचे स्मारक को जलाकर राख कर दिया है।

कांकेर में एंटी नक्सल ऑपरेशन के डीएसपी अमृत कुजूर ने बताया कि अंतागढ़ थाना, डीआरजी, एसटीएफ और बीएसएफ के जवानों को संयुक्त अभियान पर जंगलों में भेजा गया था। इलाके में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा था। इस बीच कोयलीबेड़ा थाना क्षेत्र के पनीडोबीर (खेतपारा ) में नक्सलियों ने सुरक्षा बलों के हाथों मारे गए नक्सलियों की स्मृति में लकड़ी का स्मारक बनाया था। उसे जवानों ने जलाकर राख कर दिया है।
उन्होंने कहा कि जंगलों में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है और नक्सली संगठन कमजोर हुआ है। ग्रामीणों से मिलकर उन्हें नक्सलियों से दूर रहने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही जिला पुलिस प्रशासन द्वारा जंगलों में हथियार लेकर भटक रहे नक्सलियों के परिजनों से भी नक्सलियों को सरेंडर करने की अपील की गई है।
उन्होंने आगे कहा कि हथियार छोड़कर राष्ट्र की मुख्यधारा में जुड़ने वाले नक्सलियों को गले लगा कर स्वागत किया जाएगा। लेकिन जो नक्सली हिंसा कर रहे हैं, वह समय रहते आत्मसमर्पण कर दें।
Share it
Top