logo
Breaking

मंत्री, कलेक्टर से शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई, अंतत: रोड ठेकेदार के खिलाफ सड़क पर उतरे ग्रामीण

एक ओर सरकार जहां गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़ने की कवायद में लगी हुई है, वहीं दूसरी ओर निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार ही शासन को चूना लगाने में लगे हुए हैं।

मंत्री, कलेक्टर से शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई, अंतत: रोड ठेकेदार के खिलाफ सड़क पर उतरे ग्रामीण

आनंद नारायण ओझा, दुर्ग: एक ओर सरकार जहां गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़ने की कवायद में लगी हुई है, वहीं दूसरी ओर निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार ही शासन को चूना लगाने में लगे हुए हैं। इसी का ताजा उदाहरण दुर्ग जिले के आलबरस गांव में देखने को मिला। ठेकेदार की लापरवाही पर ग्रामीणों ने मंगलवार को लामबंद होकर सड़कों पर उतर आए और लगभग 5 घंटे तक चक्कजाम कर दिया। मामले की जानकारी होने पर लोकनिर्माण विभाग के ई सेक्रेटरी मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को शांत किया और मामले की जांच करवाने की बात कही।

दरसअल प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत औंधी से नवागांव में सड़क का निर्माण किया जा रहा है। जहां सड़क निर्माण में भारी भ्रष्टाचार देखने को मिला। शासन के निर्देशानुसार 2 इंच मोटी सड़क निर्माण करना होता है, लेकिन यहां सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार महज़ आधा इंच मोटी सड़क बनाकर शासन को चूना लगाने में लगे हैं। सड़क निर्माण में ठेकेदार की लापरवाही का नतीजा यह है अभी इस सड़क के डामर उखड़ने लगा है। इस निर्माण में ठेकेदार एवं विभाग की लापरवाही और अनियमितता की शिकायत पर ग्रामीणों ने चक्काजाम कर दिया साथ ग्राम पंचायत के सरपंच आशा देशमुख सहित पूरे ग्रामीणों ने इस विरोध में शामिल हुए।

मामले को लेकर जिला पंचायत सदस्य नंद कुमार साहू ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा गुणवत्ताहीन सड़क निर्माण को लेकर शिकायत की गई है। पूर्व मंत्री और जिला कलेक्टर को इस संबंध में कई बार अवगत कराया गया, लेकिन उन्होंने कार्रवाई करने की जहमत नहीं उठाई। अंतत: ग्रामीणों को ऐसा कदम उठाना पड़ा।
ग्राम आलबरस के सरपंच आशा देशमुख ने बताया कि यह जो सड़क बन रहा है। पूरी तरह से खराब है ये ठेकोदरो और अधिकारियों की मिलीभगत से इस सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। अगर यह सड़क गुणवत्तापूर्ण नहीं बनेगा, तो हम सभी मिलकर कलेक्टर के पास धरना प्रदर्शन करेंगे।
प्रदर्शन के दौरन उपसरपंच रोशनलाल देशमुख,प्यारे लाल देशमुख, नंदकुमार साहू,जहूर सिंह देशमुख, पंच देवीसिंग देशमुख, प्रभुराम देशमुख, भोज चंदेल,सुरेश शर्मा, चुम्मन देशमुख, डाला देशमुख काग्रेंस कार्यर्ता,नंदकुमार, प्रवीण देशमुख, राहुल, लेखेश भारती,भूपेंद्र देशमुख, उमेश देशमुख, उपेंद्र देशमुख, खुमान देशमुख, गौरव,हरिश,सोमनाथ,अलित राम,भीखम देशमुख, जागेश्वर साहू,नंदकुमार देशमुख,कुमारी टिकेशवरी देशमुख, सीता बाई देशमुख, सुनिती देशमुख, अनुपा देशमुख, अहेलिया महर,गया यादव, रेनकुवर देशमुख, खोरबाहरीन यादव, फूलबाई चंदेल, अमृता चंदेल, अमृका देशमुख,इस धरना सैकड़ों ग्रामीण जन विरोध में शामिल हुए।
Share it
Top