logo
Breaking

छत्तीसगढ़ समाचार: जब एक-एककर बेहोश हो गए 22 बच्चे, स्वास्थ्य ​अमले में मचा हड़कंप

जिले के धूर नक्सल प्रभावित एवं जंगल क्षेत्र मानपुर के पास ग्राम कट्टापार के एक प्रायमरी स्कूल में उस समय हड़कंप मच गया जब एक एक कर अचानक 22 बच्चों के बेहोश होकर गिरने लगे।

छत्तीसगढ़ समाचार: जब एक-एककर बेहोश हो गए 22 बच्चे, स्वास्थ्य ​अमले में मचा हड़कंप
राजनांदगांव। जिले के धूर नक्सल प्रभावित एवं जंगल क्षेत्र मानपुर के पास ग्राम कट्टापार के एक प्रायमरी स्कूल में उस समय हड़कंप मच गया जब एक एक कर अचानक 22 बच्चों के बेहोश होकर गिरने लगे।
बच्चों के इस तरह बच्चों के बेहोश होने की खबर से स्वास्थ्य अमले में भी हड़कंप मच गया। इसके बाद आनन-फानन में बच्चों को खड़गांव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।
मानपुर क्षेत्र के आसपास गांवों में बच्चों के इस तरह से बेहोश होकर गिरने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रह है। अब शुक्रवार को कट्टापार गांव के प्राथमिक शाला के 22 बच्चे बेहोश गए। इस विचित्र बीमारी से ग्रामीणों में भारी दहश्ता का माहौल बन गया है। अधिकांश बच्चे इसकी चपेट में है।
हाल ही में मानपुर के पास ताड़ोगांव में आंगनबाड़ी के बच्चे रतनजोत खाने के बाद बीमार पड़ गए और उल्टियां करने लगे थे। अब दूसरे बच्चों के बेहोश होकर गिरने से ग्रामीणों में काफी दहशत का माहौल निर्मित हो गया है और ग्रामीणों में कई तरह कई चर्चाएं भी शुरु हो गई है। इधर स्वास्थ्य ​अमला इलाज करने में जुटा हुआ है। क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने भी बच्चों की सुध ली।
मेडिकल कॉलेज लाया गया
स्वास्थ्य अमले द्वारा इस गांव में स्वास्थ्य शिविर लगाया गया है। शिविर में सभी बच्चों एवं ग्रामीणों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। शुक्रवार को वहां 202 बच्चे बेहोश हो गए थे। शाम तक इसमें 20 बच्चों को होश नहीं आया था। ऐसे में इन बच्चों को शुक्रवार शाम बेहतर इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया। सीएमओ डॉ. मिथिलेश चौधरी ने बताया कि कारण पता नहीं चला है कि बच्चे बेहोश क्यों हो रहे थे। वैसे साइकोलाजिकल वजह हो सकती है। इलाज जारी है। खतरे वाली कोई बात नहीं है।
Share it
Top