logo
Breaking

छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री कौन बनेगा, दिल्ली में नहीं निकला हल

छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इस सवाल का जवाब दिल्ली में नहीं निकला। पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे और पीएल पुनिया ने यहां विधायकों की रायशुमारी की रिपोर्ट राहुल गांधी को सौंप दी, लेकिन फैसला नहीं हो सका। अब शुक्रवार को छग के दावेदारों से बातचीत के बाद नाम का ऐलान किया जाएगा इधर, गुरुवार को दावेदारों के समर्थक राजधानी में उनके निवास पर डटे रहे। कहीं आतिशबाजी होती रही तो कहीं नारेबाजी।

छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री कौन बनेगा, दिल्ली में नहीं निकला हल
छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इस सवाल का जवाब दिल्ली में नहीं निकला। पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे और पीएल पुनिया ने यहां विधायकों की रायशुमारी की रिपोर्ट राहुल गांधी को सौंप दी, लेकिन फैसला नहीं हो सका। अब शुक्रवार को छग के दावेदारों से बातचीत के बाद नाम का ऐलान किया जाएगा इधर, गुरुवार को दावेदारों के समर्थक राजधानी में उनके निवास पर डटे रहे। कहीं आतिशबाजी होती रही तो कहीं नारेबाजी।
टीएस सिंहदेव और भूपेश बघेल के शंकर नगर स्थित सरकारी बंगले में गुरूवार दोपहर से ही काफी चहल पहल देखने को मिली। डा. चरणदास महंत का जन्मदिन था, इसलिए सुबह से उनके यहां भीड़ रही। सीएम के चौथे दावेदार ताम्रध्वज साहू संसद सत्र की वजह से दिल्ली पहुंच चुके हैं। इन दावेदारों के समर्थकों को खुशखबरी का आज पूरे दिन इंतजार रहा। इनके आवास पर भीड़ डटी रही।
भूपेश बघेल के बंगले पर यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं के अलावे काफी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद हैं। भूपेश बघेल के बंगले के बाहर खूब आतिशबाजी हुई, वहीं भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री बनाने के पक्ष में नारेबाजी भी हुई। हालांकि खुद भूपेश बघेल राजधानी स्थित अपने बंगले में मौजूद नहीं थे, वो भिलाई-3 स्थित अपने बंगले चले गए थे।
इधर टीएस सिंहदेव के बंगले में भी सैंकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता और कई विधायक भी मौजूद रहे। सिंहदेव के समर्थन में सरगुजा संभाग से कार्यकर्ता रायपुर पहुंचे हुए थे। यहां भी नारेबाजी होती रही।
छत्तीसगढ़ कांग्रेस चुनाव कैंपेन कमेटी के चेयरमैन, सक्ती विधानसभा क्षेत्र से नवनिर्वाचित विधायक डॉ. चरणदास महंत को आज उनके जन्मदिवस की बधाई देने समर्थकों की भारी भीड़ रही। डॉ. महंत के राजधानी के देवेंद्रनगर स्थित ऑफिसर काॅलोनी स्थित आवास में सुबह से ही बड़ी संख्या में कांग्रेसी के कार्यकर्ता, समर्थक, शुभचिंतक, परिजन उन्हें जन्मदिन के साथ-साथ जीत की बधाई देने पहुंचे। दोपहर में यहां पर चरणदास महंत का आज जन्मदिन होने के कारण कई कांग्रेसी नेता उन्हें बधाई देने पहुंचे थे। बड़ी संख्या में कोरबा, रायगढ़, दुर्ग भिलाई और जांजगीर क्षेत्र से पहुंचे हुए थे।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने बताया कि डॉ. चरणदास महंत को बधाई देने कार्यकर्ताओं ने उनके उज्जवल भविष्य का भी आशीर्वाद दिया। नवनिर्वाचित विधायक इंदरशाह मंडावी, चुन्नीलाल साहू, दिलेश्वर साहू, भुनेश्वर बघेल, रामपुकार सिंह, प्रकाश नायक, मनोज मंडावी, रश्मि ठाकुर, शैलेश पांडे, यूडी मिंज, जयसिंह अग्रवाल, अनिला भेड़िया, गुलाब कमरों, मोहित केरकेट्टा, अनीता शर्मा, कुलदीप जुनेजा, अंबिका सहदेव, लक्ष्मी ध्रुव, डॉ विनय जायसवाल, विकास उपाध्याय, अमरजीत भगत, राम कुमार यादव, पुरुषोत्तम कंवर, चंदन कश्यप, रूद्र गुरू, उमेश पटेल, ममता चंद्राकर. राजकमल सिंघानिया, गुरमुख सिंह होरा, सुभाष शर्मा, गोपाल थवाईत, सुरेंद्र बहादुर, सुभाष धुप्पड़, अमित पांडे, प्रमोद दुबे समेत बड़ी संख्या में लोग बधाई देने लोग पहुंचे।
भूपेश के बंगले में आपस में उलझे कार्यकर्ता
शाम को भूपेश बघेल के बंगले में कुछ लोग आपस में बातचीत कर रहे थे। तभी एक कार्यकर्ता और बाहर से शराब के नयो में घुसे एक स्थानीय व्यक्ति से आपस में वाद विवाद होने के कारण मारपीट की नौबत आई , पर वहां पर मौजूद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मामले को संभाला। वहां पर र्माैजूद पुलिस कर्मियों ने उन युवकों को वहां से भगाया गया तब मामला शांत हुआ।
Share it
Top