Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार के बाद दिग्गजों ने दिए ऐसे बयान

मंगलवार को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद अब भाजपा दिग्गज नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। एक ओर जहां कुछ हार की वजह ओवर कॉफिडेंट बता रहे हैं वहीं कुछ इसे संकल्प पत्र में कमी का कारण बता रहे हैं।

छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार के बाद दिग्गजों ने दिए ऐसे बयान
मंगलवार को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के नतीजे (Chhattisgarh Election Result 2018) आने के बाद अब भाजपा दिग्गज नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। एक ओर जहां कुछ हार की वजह ओवर कॉफिडेंट बता रहे हैं वहीं कुछ इसे संकल्प पत्र में कमी का कारण बता रहे हैं।
राज्यसभा सदस्य रामविचार नेताम ने पार्टी नेताओं के दंभ और अहंकार को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में हार का बड़ा कारण बताया है। उन्होंने कहा ये नेताओं के अहंकार का ही परिणाम है कि भाजपा की हार हुई। इस हार से साबित हो गया है कि हम सभी वर्ग को खुश करने में नाकाम रहे हैं। पार्टी आला कमान हार के कारणों पर मंथन करेंगे। साथ ही नेताम यह भी कहा कि पार्टी को नुकसान पहुचाने वालों पर कार्यवाही का फैसला संगठन लेगी।
भाजपा प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ओवर कांफिडेंस को भाजपा की करारी हार का कारण बताया है। उन्होंने कहा पार्टी अपने ओवर कांफिडेंस के कारण हारी है। 15 तक सत्ता में रहने के कारण सरकार में दुर्गुण आ गए थे। साथ ही उपासने ने कांग्रेस की जीत पर कहा कि कांग्रेस ने बीजेपी के अच्छे गुणों को अपनाया इसलिए वह जीत गई।
वहीं मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा कि राज्य की जनता को कांग्रेस का घोषणा पत्र ज्यादा अच्छा लगा। इसलिए वह सत्ता में आ गई। शायद भाजपा के संकल्प पत्र में कुछ कमी रह गई होगी। इतना ही नहीं चंद्राकर ने कहा, कांग्रेस ने 10 दिन की बात कही है अगर वह 10 दिन में अपना घोषणा पूरा नहीं करती है तो बीजेपी अपनी विपक्ष की भूमिका निभाएगा।

मंत्री राजेश मुणत ने हार के लिए परिवर्तन की लहर को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा परिवर्तन की लहर थी और जनता परिवर्तन चाहती थी। कांग्रेस का घोषणा पत्र लोग लुभावन रहता है जो वादा कांग्रेस ने 10 दिनों का पूरा करने का वादा किया है। जनता ने 15 साल सेवा करने का मौका दिया था
उसे हमने पूरा किया है।
Next Story
Share it
Top