logo
Breaking

छत्तीसगढ़ / कभी भूपेश के यहां पटाखे तो कभी साहू के यहां मिठाई, महंत-टीएस के समर्थक भी डेट

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा होने से पहले इस पद के प्रमुख दावेदार भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू के घर सियासत के बदले हुए रंग नजर आते रहे। शाम से रात तक भूपेश बघेल के घर पटाखे चलाए जाते रहे। दिन निकला तो ताम्रध्वज साहू के घर मिठाई बंटने की खबर आई।

छत्तीसगढ़ / कभी भूपेश के यहां पटाखे तो कभी साहू के यहां मिठाई, महंत-टीएस के समर्थक भी डेट

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा होने से पहले इस पद के प्रमुख दावेदार भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू के घर सियासत के बदले हुए रंग नजर आते रहे। शाम से रात तक भूपेश बघेल के घर पटाखे चलाए जाते रहे। दिन निकला तो ताम्रध्वज साहू के घर मिठाई बंटने की खबर आई। दोपहर 12 बजे तक वे दौड़ में बने रहे।

इधर दूसरी ओर टीएस सिंहदेव के शासकीय निवास पर उनके सर्मथकों का दिनभर जमावड़ा रहा। चौथे दावेदार डॉ. चरणदास महंत के बारे में जानकारी मिली है कि उनके समर्थक भी रायपुर में इस उम्मीद में डटे हैं कि उनके नेता को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा।

छत्तीसगढ़ की सियासत से लेकर आम लोगों तक सभी लोगों को इस बात का इंतजार है कि कांग्रेस सरकार का मुख्यमंत्री कौन होगा। पार्टी को राज्य की 90 में 68 सीटें जीतने पर न केवल कांग्रेस, बल्कि मतदाताओं में भी उत्साह है। सबसे अधिक उत्सुकता मुख्यमंत्री के नाम को लेकर है।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ / कौन बनेगा मुख्यमंत्री, राहुल गांधी ने फोटो शेयर कर कही बड़ी बात

इस बीच दावेदारों का नाम तय होने की चर्चा के आधार पर सियासत के रंग बदलते दिख रहे हैं। शाम से लेकर रात तक भूपेश बघेल को लेकर माना जा रहा था कि उनका बनना तय है। उनके भिलाई पदुम नगर स्थित निवास पर पटाखे भी चलने लगे थे। माना जा रहा था कि उनका नाम तय हो गया है।

इधर कांग्रेस में शनिवार सुबह से ये चर्चा तेज हो गई कि भूपेश टीएस सिंहदेव के बीच तीसरे दावेदार के रूप में ताम्रध्वज साहू का नाम तय होने की खबर आई। बताया गया है कि श्री साहू के घर मिठाई भी बंटनी शुरू हो गई, लेकिन दोपहर बाद से ये बात सामने आई कि श्री साहू भी दौड़ से बाहर हो गए हैं।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ / मुख्यमंत्री के नाम पर कांग्रेस में गहन मंथन जारी, अब तक नहीं बनी बात

सिंहदेव-महंत के सर्मथक डटे

टीएस सिंहदेव के शंकरनगर स्थित निवास पर दो दिन से डटे सर्मथक शनिवार को भी मौजूद रहे। उनके निवास पर समर्थकों ने उत्साह दिखाने में कोई कमी नहीं की। इधर कुछ विधायकों ने नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव के शंकरनगर स्थित सी-5 बंगले में कांग्रेस की जीत को घोषणापत्र की जीत बताया है। दोपहर में अफवाह उड़ी कि टीएस सिंहदेव के बंगले में कई विधायक धरने पर बैठे थे।

जब इस बात की जानकारी की तहकीकात की गई, तो पता चला कि यहां कुछ विधायक जिनमें खेलसाय सिंह, डॉ. प्रेमसाय सिंह, बृहस्पत सिंह, शैलेष पांडे, यूडी मिंज, डॉ. प्रीतम राम, ममता चंद्राकर, देवेंद्र बहादुर सिंह, लालजीत सिंह राठिया, अम्बिका सिंहदेव, छन्नी साहू, किस्मत लाल नंद, डॉ. विनय जायसवाल और कुलदीप जुनेजा उपस्थित थे।

खेलसाय सिंह, बृहस्पत सिंह और अम्बिका सिंहदेव से पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि योग्य व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाना चाहिए।

उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी का घोषणापत्र आने के बाद ही चुनाव में कांग्रेस के पक्ष में अच्छा माहौल देखने को मिला।

घोषणापत्र बनाने वाले ने अपनी योग्यता साबित किया है। उन्होंने कहा कि टीएस बाबा को अवसर मिलना चाहिए। इस बीच चारों दावेदारों के बंगलों पर बढ़ाई गई सुरक्षा बढ़ाई गई है।

Share it
Top